in

बारिश के इस मौसम में लाइफ़लाइन बनी लखनऊ मेट्रो

with arrival of monsoon lucknow metro emerging as lifeline of city transportation
with arrival of monsoon lucknow metro emerging as lifeline of city transportation

लखनऊ : बारिश के इस मौसम में लखनऊ मेट्रो, शहर के ट्रांसपोर्ट सिस्टम के लिए एक लाइफ़लाइन बनकर उभरी है। with arrival of monsoon lucknow metro emerging as lifeline of city transportation

मॉनसून लखनऊ पहुंच चुका है और पिछले कुछ दिनों से शहर में हो रही बारिश इसका सबूत है। जहां एक तरफ़ कुछ लोग बारिश में मस्ती के बहाने ढूंढते हैं, वहीं दूसरी तरफ़ स्कूल-कॉलेज जाने वाले स्टूडेंट्स और कामगार वर्ग के लिए यह मौसम कई चुनौतियां लेकर आता है।

शहर के विभिन्न इलाकों में बारिश के चलते पानी भरने और जाम लगने की ख़बरें सामने आती रहती हैं। इसके अलावा ऑफ़िस जाते वक़्त भीगने से बचने की जद्दोजहद भी होती है।

with arrival of monsoon lucknow metro emerging as lifeline of city transportation
with arrival of monsoon lucknow metro emerging as lifeline of city transportation

ऐसे में मेट्रो सर्विसेज़ सार्वजनिक यातायात का एक बेहतर विकल्प पेश करती हैं और यही वजह है कि बारिश के मौसम में शहर का एक बड़ा तबका, यातायात के लिए लखनऊ मेट्रो का इस्तेमाल कर रहा है। बारिश के इस मौसम में लखनऊ मेट्रो, शहर के ट्रांसपोर्ट सिस्टम के लिए एक लाइफ़लाइन बनकर उभरी है।

जहां अब एक तरफ़ मेट्रो के विकल्प के चलते लोगों को अब असमय होने वाली बारिश में भीगने का डर नहीं सताता, वहीं दूसरी ओर बारिश के चलते सड़कों पर लगने वाले जाम में भी कमी आई है।

हज़रतगंज निवासी सोमेश पांडे कहते हैं कि उन्हें काम के लिए रोज़ाना चारबाग़ जाना होता है और लखनऊ मेट्रो के शुरू होने से पहले तक बारिश के मौसम में ऑफ़िस पहुंचना उनके लिए बहुत ही दुष्कर होता था, लेकिन लखनऊ मेट्रो के उत्तर-दक्षिण कॉरिडोर पर यात्री सेवाओं के प्रारंभ के बाद, इस बारिश के मौसम में उन्हें बड़ी ही सहूलियत महसूस हो रही है।

with arrival of monsoon lucknow metro emerging as lifeline of city transportation

ऐसे ही एक और यात्री हैं, मुंशीपुलिया निवासी प्रखर त्रिपाठी, जो बारिश के मौसम में शहर के यातायात को सुचारू बनाए रखने के लिए लखनऊ मेट्रो के शुक्रगुज़ार हैं। प्रखर कहते हैं कि हर साल बारिश के मौसम में मुंशीपुलिया में जलभराव के चलते ट्रैफ़िक जाम की समस्या बहुत ही अधिक बढ़ जाती है और कुछ किलोमीटर की दूरी तय करने में घंटों लग जाते थे। लखनऊ मेट्रो का परिचालन शुरू होने के बाद से सड़कों पर भीड़ कम हुई है और लोग मेट्रो की सुविधाजनक यात्रा को तरजीह दे रहे हैं।

लखनऊवासी, मेट्रो सुविधाओं का भरपूर लाभ उठा रहे हैं और शहर के यातायात परिदृश्य को एक नया आयाम देने में लखनऊ मेट्रो का पूरा सहयोग कर रहे हैं।

Written by National TV

NABARD foundation day minister surya pratap shahi praised for farmers income employment in rural areas

नाबार्ड के कारण किसानों की आय और ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार बढ़े है : सूर्य प्रताप शाही

tv show bhabhi ji ghar par hai recreat film padosan song ek chatur nar

‘भाभी जी घर पर हैं’; फिल्म ‘पड़ोसन’ की झलक दिखाने को है तैयार