in

पति से झगड़ा कर चौराहे पर आई महिला को ई—रिक्शा चालक ले गया फूलमंडी पुलिया के पास फिर दोस्तों संग किया गैंगरेप

अरैल बांध रोड का यह इलाका काफी सूनसान रहता है, जिसका फायदा उठाकर रिक्शा चालक व उसके वहशी साथियों ने महिला को अपना शिकार बनाया और मिलकर महिला को गिद्ध की तरह नोच डाला।

इलाहाबाद / प्रयागराज : उत्तर प्रदेश के प्रयागराज जिले में सनसनीखेज वारदात हुई है। यहां ई—रिक्शा चालक व उसके वहशी दोस्तों ने खतरनाक प्लान बनाकर एक महिला के साथ गैंगरेप किया है। घटना उस वक्त हुई जब पति से झगड़ होने के बाद गुस्सा होकर महिला घर छोड़कर चली आई और चौराहे पर किसी वाहन का इंतजार कर रही थी। इसी दौरान एक रिक्शा चालक ने हालात को भांप कर महिला को रिक्शे पर बिठाया और फिर मदद का भरोसा दिलाकर अपने साथ फूलमंडी पुलिया के नीचे ले गया। अरैल बांध रोड का यह इलाका काफी सूनसान रहता है, जिसका फायदा उठाकर रिक्शा चालक व उसके वहशी साथियों ने महिला को अपना शिकार बनाया और मिलकर महिला को गिद्ध की तरह नोच डाला। ग्रामीणों की नजर पड़ जाने के बाद आरोपियों में से एक युवक को स्थानीय लोगों ने दौड़ाकर घटना स्थल पर ही दबोच लिया है और अब वह पुलिस हिरासत में हैं। हालांकि उसके दोनो साथी अभी भी फरार हैं, जिनकी गिरफ्तारी का प्रयास पुलिस कर रही है। फिलहाल महिला को बेहोशी की हालत में इलाज के लिये भर्ती कराया गया है। डाक्टरों का कहना है कि उसे नशीला पदार्थ सुंघाया गया है, जिससे वह बेहोश हो गयी थी।
क्या है मामला
पुलिस के अनुसार प्रयागराज के नैनी निवासी एक महिला अपने पति व तीन बच्चों के साथ यहां रहती थी। मंगलवार का पति से जमकर नोक झोंक होने के बाद गुस्से में उसने घर छोड़ दिया और बिहार स्थिति अपने माइके चली जाने की धमकी दी। गुस्से में महिला चौराहे पर चली आई और यहां रोड किनारे रो रही थी। इसी बीच एक ई रिक्शा चालक वहां पहुंचा और अकेली महिला को देखकर रिक्शा रोकते हुये कहां जाना है ? पूछा। महिला को रोता देखकर रिक्शा चालक ने सांत्वना दी और उसकी मदद का भरोसा दिलाते हुये कहा कि वह रिक्शा पर बैठे वह जहां कहेगी उसे वह छोड़ देगा। महिला रिक्शे पर बैठ गयी तो वहीं खड़े दो युवक भी रिक्शा पर बैठ गये। बताया जा रहा है कि पीडित महिला उन दोनों युवकों के साथ ही वहां खड़ी थी। रिक्शे पर बैठने के बाद महिला को लेकर तीनों अरैल बांध रोड के सूनसन इलाके में पहुंचे। इस बीच महिला को कुछ सुंघाकर युवकों ने बेहोश कर दिया और फूलमंडी पुलिया पर रिक्शा खड़ा कर महिला को पुलिया के नीचे ले गये। जहां युवकों ने महिला के साथ गैंगरेप शुरू कर दिया।
रिक्शा देखकर रूके लोग
काफी देर से ई रिक्शा पुलिया के पास खड़ा देखकर स्थानीय लोगों को शक हुआ तो वह मौके पर पहुंचे और इधर उधर तलाशी करने लगे। पुलिया के नीचे से आ रही आवाज को सुनकर दो युवक नीचे उतरे तो सामने का नजारा देखकर हतप्रभ रहे गये। तीन युवक एक महिला को वहशियों की तरह नोच रहे थे। ग्रामीणों ने गुहार लगाई और युवकों को दौड़ा लिया। इस दौरान ई रिक्शा चालक को ग्रामीणों ने दबोच लिया और जमकर पिटाई के बाद पुलिस को फोन पर जानकारी दी गयी। हालांकि मौका पाकर रिक्शा चालक के दोनों साथी भागने में सफल रहे।
अस्पताल में चल रहा महिला का इलाज
सूचना पर नैनी पुलिस मौके पर पहुंची और अर्द्ध बेहोशी की हालत में पड़ी पीड़िता को सीएचसी चाका ले जा या गया, जहां हालत गंभीर होने पर उसे डफरिन अस्पताल रिफर कर दिया गया। जहां उसका इलाज चल रहा है। घटना की जानकारी होते ही पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया और आनन फानन में एसएसपी अतुल शर्मा एवं एसपी यमुनापार दीपेंद्र नाथ चौधरी अस्पताल पहुंचे और हालात का जायजा लेकर आरोपियों की तलाश के लिये घेराबंद करायी। वहीं, देर रात खबर पाकर युवती के परिजन भी अस्पताल पहुंच गये थे। मामले में इंस्पेक्टर नैनी वीके सिंह ने बताया कि पकड़े गये युवक का नाम राहुल भारतीया है और वह नैनी के ही महेवा इलाके का रहने वाला है। अभी वह बार बार बयान बदल रहा है, कभी महिला के रिक्शे में आकर बैठने, तो कभी दो युवकों के साथ बैठने के बारे में बता रहा है। पूछताछ की जा रही है, महिला के बयान देने के बाद स्थिति साफ हो जायेगी।

Written by Amarish Shukla

हावड़ा-जोधपुर एक्सप्रेस में अचानक रोने लगी 7 साल की बच्ची, बतायी अंकल की करतूत तो यात्रियों ने पिटाई कर जीआरपी को सौंपा

little children practice meditation in geeta parivar arjun bhav sanskar camps

बाल गोपालों ने किया ध्यान, जाना महत्व