in ,

JNU के समर्थन में उतरे विनोद प्रजापति, सरकार पर उठायें गम्भीर सवाल।

Vinod Prajapati's Photo

इन्डियन नेशनलिस्ट एलायंस पार्टी (आईएनए पार्टी) के राष्ट्रीय संगठन मंत्री विनोद प्रजापति (Vinod Prajapati) जी JNU के समर्थन में उतरे और उन्होंने अच्छी एवं सस्ती शिक्षा को पहला अधिकार बताया। उन्होंने सरकार पर सवाल उठाते हुए पूछा कि अगर देश में महंगी शिक्षा होगी तो गरीब बच्चें कैसे पढेंगे?

विनोद प्रजापति जी (Vinod Prajapati) ने दिल्ली पुलिस द्वारा की गई JNU छात्रों पर बर्बता की भी कड़ी निंदा की। उन्होंने आगे कहा कि जिस तरह सरकार छात्रों के आन्दोलन को पुलिस बल के माध्यम से दबाने का प्रयास कर रही है वो किसी भी प्रकार से उचित नहीं ठहराया जा सकता।

Nokia [CPS] IN
Vinod Prajapati
इंडियन नेशनलिस्ट एलायंस पार्टी के राष्ट्रीय संगठन मंत्री विनोद प्रजापति का फाइल फोटो

निजीकरण के मसले को लेकर भी विनोद प्रजापति जी (Vinod Prajapati) ने चिंता जाहिर की। उन्होंने कहा कि सरकार जिस तरह निजीकरण की तरफ तेजी से बढ़ रही है उससे देश को नहीं बल्कि कुछ बड़े घरानों को ही फायदा पहुंचेगा।

निजीकरण के मामले पर उन्होंने आशंका व्यक्त की, कि सरकार अपने फायदे के लिए JNU जैसें शिक्षण संस्थानों का भी निजीकरण करने से पीछे नहीं हटेगी।

कौन थे विधायक जवाहर पंडित, कैसे जौनपुर के एक गांव से निकलकर इलाहाबाद पर कर रहे थे राज और कैसे हुई थी हत्या, पढिये सबकुछ

उन्होंने (Vinod Prajapati) सरकार से पूछा कि क्या अब सस्ती शिक्षा को भी बडे बडे घरानों को बेचना चाहती है सरकार? ताकि वे सुविधा के नाम पर मोटा मोटा बिजनेस कर सके। आज देश में सभी सरकारी स्कूलों की हालात इतनी खराब हैं कि कोई चाह कर भी सरकारी स्कूलों में अपने बच्चों को नही पढाना चाहता।

JNU की छात्रा से प्रयागराज एक्सप्रेस में छेडखानी करने वाला टीटीई सस्पेंड

Nokia [CPS] IN

हलांकि मैं उस तत्व के हमेशा खिलाफ हूँ जो JNU में देश विरोधी और आतंकियों के समर्थन में नारे लगाते है। मैं (Vinod Prajapati) सस्ती और मुफ्त शिक्षा का पक्षधर हूँ इसलिए मैं JNU के पक्ष में हूँ।

Nokia [CPS] IN

Written by National TV

Central Academy's Sports Carnival closing ceremony

सेन्ट्रल एकेडमी का स्पोर्टस कार्निवाल का समापन समारोह