in

सिचाई विभाग का सिविल डिप्लोमा इंजीनियर संघ अधिकारियों की मनमानी के खिलाफ

up Irrigation Department Civil Diploma Engineer association against to officers
up Irrigation Department Civil Diploma Engineer association against to officers

लखनऊ : सिचाई विभाग का सिविल डिप्लोमा इंजीनियर संघ अधिकारियों की मनमानी के खिलाफ हो गया है।
सदस्यों के वर्षों से लम्बित सेवा सम्बन्धी प्रकरणों पर विभागीय अधिकारियों की मनमानी, द्वैषभावपूर्ण, नियम विरूद्व, नकारात्मक कार्यप्रणाली के विरोध में धरना/प्रदर्शन/ध्यानाकर्षण कार्यक्रम किया गया। up Irrigation Department Civil Diploma Engineer association against to officers

विभाग स्तर पर जूनियर इंजीनियर्स एवं सहायक अभियंतओं के विभिन्न सेवा सम्बन्धी प्रकरणों को अनावश्यक रूप से मनमाने ढंग से द्वेषभाव से ग्रसित होकर नकारात्मक कार्यप्रणाली से लम्बित बनाये रखकर प्रताड़ित किया जा रहा है। इस कारण आज प्रमुख अभियंता एवं विभागाध्यक्ष के कार्यालय के समक्ष धरना/प्रदर्शन कार्यक्रम कर ध्यानाकर्षण किया गया।

इसमें सहायक अभियंता (सिविल) की ज्येष्ठता सूची के अंतिम प्रसारण का प्रकरण वर्तमन में शासन स्तर पर लम्बित होने के उपरान्त भी अनावश्यक रूप से एक पक्षीय द्वेषभाव से अधीनस्थ अधिकारियों की विभाग स्तर पर समिति गठित कर प्रकरण पर पक्षपातपूर्ण कार्यवाही की जा रही है।

up Irrigation Department Civil Diploma Engineer association against to officers
up Irrigation Department Civil Diploma Engineer association against to officers

सहायक अभियंता सिविल की वरिष्ठता के प्रकरण में कार्मिक विभाग से प्राप्त मार्गदर्शन के उपरान्त विभाग एवं शासन में हुई बैठक के उपरान्त नियमानुकूल मौलिक नियुक्ति की तिथि के आधार पर अनन्तिम वरिष्ठता सूची प्रसारित कर 15 दिवस में आपत्तियाँ मांगी गई।

आपत्तियाँ ग्रहण करने का समय निकलने के बाद भी सीधी भर्ती के सहायक अभियंता की षड़यंत्रपूर्ण मांग पर अपने विभिन्न प्रभावों का गलत उपयोग कर समय सीमा पुनः बढ़वाकर 10.04.2019 करवा दी गयी। विभाग द्वारा उक्त समय में प्राप्त सभी आपत्तियों का निराकरण कर सूची के अंतिम प्रसारण हेतु प्रकरण 30.04.2019 को शासन में प्रेषित कर दिया गया।

मुख्यमंत्री के 7 दिवस में फाइल के निस्तारण के स्पष्ट  एवं कड़े निर्देश होने के उपरान्त भी 3 माह से अधिक समय में भी सहायक अभियंता की वरिष्ठता सूची का अंतिम प्रसारण नहीं किया गया है। इसके विपरीत प्रकरण को उलझाने के लिये नियमों की अनदेखी कर सीधी भर्ती सहायक अभियंता संघ के पूर्व अधिकारियों के दुष्प्रचार एवं प्रभाव में आकर शासन के स्पष्ट निर्देशों के उपरान्त भी 03 माह पश्चात् भी उक्त प्रकरण पर आपत्तियाँ ग्रहण की जा रही हैं। वर्तमान में इनके द्वारा दी जा रही।

आपत्तियों में उन्हीं तथ्यों का उल्लेख किया गया है जिस पर विभागीय अभिमत शासन को 30.04.2019 को ही भेजा जा चुका है। वर्तमान में विभाग में कार्यरत प्रोन्नत सम्वर्ग से द्वेषभाव रखने वाले अपनी नकारात्मक कार्यप्रणाली के लिये चर्चित अधिकारियों द्वारा अनावश्यक रूप से भ्रम व विवाद उत्पन्न किया जा रहा है। डिप्लोमा इंजीनियर्स के विरूद्ध विभाग में व्याप्त पक्षपात एवं द्वेषभावपूर्ण कार्यवाही के भारी विरोध करते हुए आज का ध्यानाकर्षण कार्यक्रम आयोजित किया गया है।

up Irrigation Department Civil Diploma Engineer association against to officers

इसके साथ-साथ दिवंगत एवं सेवा निवृत्त सदस्यों के ए0 सी0 पी0 रू0 7600=00 के प्रकरणों को विभागीय एवं शासकीय उदासीन एवं नकारात्मक कार्यशैली द्वारा वर्षों से लम्बित बनाये रखा गया है। प्रोन्नत सहायक अभियंताओं के द्वितीय ए0 सी0 पी0 रू0 6600=00 के 50 प्रकरण विभाग एवं शासन में विभिन्न प्रक्रियाओं में उलझा कर अनावश्यक रूप से लम्बित रखे गये हैं।

वरिष्ठता के आधार पर कनिष्ठ के समान वेतन निर्धारण के लगभग 100 प्रकरण विभागीय दूषित कार्यप्रणाली के कारण लगभग एक वर्ष से लम्बित बनाये रखे गये हैं। एरच बाॅंध परियोजना जांच प्रकरण में निर्दोष जूनियर इंजीनियर्स को नियमों के विपरीत एवं शासन द्वारा शासकीय क्षति के आंकलन हेतु गठित समिति की आख्या आये बिना ही अर्थात शासकीय क्षति का अन्तिम रूप से आंकलन हुए वगैर ही द्वेषभाव से प्रताड़ित करने हेतु आरोप पत्र/अन्य कार्यवाहियाँ की जा रही हैं।

प्रारम्भिक जांच के प्रकरणों में कार्मिक विभाग के शासनादेश 09-05-1997 व 01-08-1997 के प्रावधानों की इरादतन अनदेखी कर जूनियर इंजीनियर्स को आर्थिक, मानसिक एवं सामाजिक रूप से प्रताड़ित कर भ्रष्टाचार को बढ़ावा दिया जा रहा है। इसके साथ-साथ जांच के लम्बित प्रकरणों में जांच आख्या आने के उपरान्त भी मनमाने ढंग से चिन्हित कर कार्यवाहियाँ की जा रहा हैं।

इसके विरोध में उक्त धरना/प्रदर्शन कर ध्यानाकर्षण कार्यक्रम आयोजित किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता इं सुधीर पवांर प्रान्तीय अध्यक्ष ने की तथा सभा का संचालन महासचिव इं नितेन्द्र श्रीवास्तव ने किया।

इस कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश डिप्लोमा इंजीनियर्स महासंघ के प्रान्तीय अध्यक्ष इं0 राकेश कुमार त्यागी, संरक्षक इं0 एस0 पी0 श्रीवास्तव, प्रमुख सलाहकार इं0 ओ0 पी0 राय, विद्युत एवं यांत्रिक डिप्लोमा इंजीनियर्स संघ महासचिव इं0 गजेन्द्र कुमार, डिप्लोमा इंजीनियर्स संघ, लघु सिंचाई विभाग के महासंचिव इं0 उदय भान मल्ल, प्रदेश के जनपदीय/मण्डलीय एवं प्रान्तीय पदाधिकारियों के साथ-साथ उक्त प्रकरणों में प्रताड़ित सदस्यों द्वारा सहभागिता कर प्रमुख अभियंता एवं विभागाध्यक्ष का ध्यानाकर्षण किया गया।

Written by National TV

lko DM Kaushal Raj Sharma disposed of 26 cases on the spot on sampurna samadhan divas

सम्पूर्ण समाधान दिवस में डीएम कौशल राज शर्मा ने किया 26 प्रकरणों का मौके पर निस्तारण

cm yogi advised all ministers to aviod corruption family don't interfere in your responsibilities and work

राज्यपाल ने 6 मंत्रियों, 6 राज्यमंत्रियों (स्वतंत्र प्रभार) एवं 11 राज्यमंत्रियों को शपथ ग्रहण करायी