Main Menu

बंगाल हिंसा में 4 की मौत दर्जनों घायल, लोगों ने की राष्ट्रपति शासन की मांग

Share This Now

कोलकाता : पश्चिमी बंगाल में चुनाव में हो रही हिंसा में 4 लोगों की मौत हो चुकी हैं वहीँ दर्जनों लोग घायल हो गये हैं. बंगाल के मुर्शिदाबाद में एक भाजपा कार्यकर्ता की हत्या कर दी गई. बंगाल मेंहो रहे इस हिंसा को ममता के मंत्री ने मामूली घटना बताया.

पश्चिम बंगाल पंचायत चुनाव में सोमवार सुबह नौ बजे तक 11 फीसदी मतदान हुआ. लेकिन राज्य के कई हिस्सों में हिंसा की घटनाओं में कई लोग घायल हो गए हैं. दक्षिण 24 परगना जिले के कुलताली क्षेत्र में एक टीएमसी कार्यकर्ता आरिफ गाजी की गोली मारकर हत्या कर दी गई. उधर, राज्य निर्वाचन आयोग के अधिकारियों ने बताया कि दक्षिण दिनाजपुर जिले के तपन इलाके में एक मतदान केंद्र के बाहर बम फेंका गया जिसमें एक व्यक्ति की मौत और तीन अन्य के घायल होने की खबर है.

पत्रकारों पर भी टीएमसी कार्यकर्ताओं का हमला

जानकारी के अनुसार टीएमसी के गुंडों ने पत्रकारों पर हमला कर उनको घायल कर दिया हैं. कई पत्रकारों ने इस बात को लेकर शिकायते की लेकिन उनकी बातों को दबा दिया गया. कुछ पत्रकारों ने बताया कि बंगाल में हालात बहुत खराब हैं. राज्य सरकार कोई एक्शन नहीं ले रही हैं.

डर के साये में हो रहे चुनाव, लोगों ने की राष्ट्रपति शासन की मांग

बंगाल में हालात इस कदर हैं कि लोग डर के साये में वोट डालने आ रहे हैं जबकि कुछ लोग तो डर के कारण घर से नहीं निकलना चाहते. उनका ये डर बंगाल को खराब कर देगा. बंगाल में लगतार हो रही हिंसा को देखते हुए लोगों ने सोशल मीडिया के माध्यम से राष्ट्रपति शासन की मांग की हैं.



Leave a Reply