in ,

पी चिदंबरम 26 अगस्‍त तक सीबीआई हिरासत में, कोर्ट का फैसला आया

P. Chidambaram in CBI custody till August 26, CBI court verdict arrived
SC dismisses Chidambaram appeal, now CBI remand till 30

नई दिल्ली : सीबीआई कोर्ट का फैसला आ गया है। पी चिदंबरम 26 अगस्‍त तक सीबीआई हिरासत में रहेंगे। रोजाना 30 मिनट तक वकील और परिवार के सदस्‍य मिल सकेंगे। P. Chidambaram in CBI custody till August 26, CBI court verdict arrived

पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम को राऊज एवेन्‍यू की विशेष अदालत में पेश किया गया। सीबीआईI का पक्ष रखते हुए सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने चिदंबरम की पांच दिन की हिरासत मांगी है।

Nokia [CPS] IN

सॉलिसिटर जनरल तुषर मेहता ने सीबीआई के लिए बहस करते हुए कहा कि दंड प्रक्रिया संहिता के तहत पूछताछ का अधिकार मेरा कर्तव्य है। हम केवल आरोपियों से और पूछताछ करने के लिए अदालत की अनुमति मांग रहे हैं।

P. Chidambaram in CBI custody till August 26, CBI court verdict arrived
P. Chidambaram in CBI custody till August 26, CBI court verdict arrived

कांग्रेस इस घटनाक्रम पर आक्रामक है। वरिष्‍ठ वकील कपिल सिब्‍बल और अभिषेक मनु सिंघवी ने चिदंबरम का पक्ष रखा। सीबीआइ कोर्ट ने पी चिदंबरम पर फैसला सुरक्षित रखा। सीबीआइ ने 5 दिन की रिमांड मांगी है।

कोर्ट में पी चिदंबरम ने कहा कि कृपया प्रश्‍न और उत्‍तर पर ध्‍यान दें। कोई ऐसा सवाल नहीं है जिसका मैंने जवाब नहीं दिया।  कृपया ट्रांसक्रिप्ट पढ़ें। उन्होंने पूछा, अगर मेरा विदेश में बैंक खाता है, तो मैंने कहा कि नहीं। उन्होंने पूछा कि क्या मेरे बेटे का विदेश में खाता है तो मैंने कहा कि हां।

अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि अगर जांच एजेंसी पांच बार बुलाती है, अगर वे नहीं जाते हैं तो वह असहयोग है। असहयोग वह नहीं है जो वे सुनना पसंद करते हैं और वे जवाब नहीं दे रहे हैं।

P. Chidambaram in CBI custody till August 26, CBI court verdict arrived

उन्‍होंने पी चिदंबरम को एक बार बुलाया और वे तुरंत गए। कहां सहयोग नहीं है। अभिषेक मनु‍ सिंघवी ने कहा कि सीबीआई का पूरा आरोप सरकारी गवाह इंद्राणी मुखर्जी के साक्ष्य और केस डायरी पर आधारित हैं।

Nokia [CPS] IN

कपिल सिब्‍बल ने कहा कि ड्राफ्ट चार्जशीट तैयार होते ही जांच पूरी हो गई। विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड की मंजूरी छह सरकारी प्रतिभूतियों द्वारा दी गई, किसी को भी गिरफ्तार नहीं किया गया है। यह दस्तावेजी साक्ष्य का मामला है। चिदंबरम कभी भी पूछताछ से पीछे नहीं हटे।

Nokia [CPS] IN

Written by National TV

bjp re-attack on SP akhilesh yadav for law and order in UP

विरासत से सियासत में आए सैफई के युवराज ने यूपी को अपराध का हब बना दिया था : भाजपा

buying and selling of infants in hospital was exposed, newborn's used in millions ramgarh jharkhand

अस्पताल में शिशुओं की खरीद-बिक्री का मामला उजागर, लाखों में लगती थी नवजात की बोली