in

….अब प्रयागराज में वकील की गोली मारकर हत्या, हंगामा

इलाहाबाद / प्रयागराज  । उत्तर प्रदेश बार कौंसिल की अध्यक्ष अधिवक्ता दरवेश यादव की हत्या से सूबे में खराब माहौल अभी ठीक भी नहीं हुआ था कि प्रयागराज जिले में रविवार की रात सनसनीखेज वारदात हुई। शहर से घर जा रहे एक अधिवक्ता की गोली मारकर हत्या कर दी गयी। घटना की सूचना पर पुलिस पहुंची तो मौके पर घायल वकील सुशील पटेल जिंदा थे। उन्हे इलाज के लिये अस्पताल ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। अधिवक्ताक की मौत की खबर जैसे ही फैली जिला कचहरी के अधिवक्ता पोस्टमार्टम हाउस पहुंच गये और हंगामा शुरू शुरू हो गया। पुलिस अधिकारियों ने किसी तरह समझा बुझाकर लोगों को शांत कराया और रात में जांच के लिये दो टीमें गठित कर दी है।
सूनसान इलाके में मारी गोली
जिले के सोरांव थानान्तर्गत तिवारीपुर लेहरा गांव पड़ता है। इसी गांव के रहने वाले सुशील पुत्र रामलाल कचहरी में वकालत करते थे। पिछले कुछ समय से वह प्लाटिंग के काम से भी जुड़ गये थे और जमीन की खरीद फरोख्त में तेजी से आगे बढ़ रहे थे। पुलिस के अनुसार सुशील फाफामऊ में गोहरी रेलवे क्रासिंग के पास जीतलाल पटेल के मकान में किराए पर कमरा लेकर अकेले रहते थे। रात करीब आठ बजे वह बाइक से गांव की ओर जा रहे थे, गांव से पहले सूनसान इलाके में वह पहुंचे थे कि तभी बाइक सवार बदमाशों ने उन्हे ओवरटेक कर रोक लिया। इससे पहले कि सुशील कुछ समझ पाते बाइक सवार बदमाशों ने उनके सीने में पिस्टल से कयी गोली मार दी।
पुलिस ले गयी अस्पताल
घटना के तुरंत बाद ही उधर से गुजर रहे राहगीरों ने पुलिस कंट्रोल रूम को घटना की सूचना दी तो आनन फानन में पुलिस मौके पर पहुंची और घायल वकील को इलाज के लिये अस्पताल ले गयी। लेकिन स्वरूपरानी नेहरू अस्पताल में चिकित्सकों ने चेकअप के बाद वकील सुशील को मृत  घोषित कर दिया।
जमकर हुआ हंगामा
वकील की गोली मारकर हत्या के बाद पोस्टमार्टम हाउस के बाहर वकीलों का मजमा लग गया और देखते ही देखते हंगामा शुरू हो गया। माहौल बिगडने की सूचना पर डीएम व एसएसपी, एसपी सिटी कई थाने की फोर्स के साथ पोस्टमार्टम हाउस पहुंचे। जहां वकीलों ने पुलिस के प्रति अपनी नाराजगी जाहिर करते हुये नारेबाजी शुरू कर दी। नाराज वकीलों ने हत्यारों की तत्काल गिरफ्तारी व पीडि़त परिवार को 50 लाख की आर्थिक मदद की मांग की। काफी समझाने बुझाने व आश्वसान के बाद आक्रोशित वकील शांत हुये तो पोस्टमार्टम किया जा सका। मामले में एसएसपी अतुल शर्मा ने बताया कि प्रथम दृष्टया प्रापर्टी डीलिंग के विवाद में हत्या की बात सामने आई है। सुशील पटेल ने हाल ही में प्रॉपर्टी डीलिंग का काम शुरू किया था। कुछ लोग आपसी रंजिश भी बता रहे हैं। हम मामले की जांच कर रहे हैं। हत्यारोपितों की तलाश में क्राइम ब्रांच व पुलिस टीम को लगाया गया है। जल्द ही मामले का पर्दाफाश कर दिया जाएगा।
Nokia [CPS] IN

Written by Amarish Shukla

प्रयागराज में सपा पार्षद के ऑफिस पर बमबाजी, सीसीटीवी में कैद हुई घटना

उत्तर मध्य रेलवे जोन के सभी 405 रेलवे स्टेशन पर अब मिलेगी फ्री में वाई वाई सुविधा