in

नैनी सेंट्रल जेल में शूटरों ने की दारू—मुर्गा पार्टी, फोटो वायरल

सोशल मीडिया पर वायरल हुई तस्वीर में 6 क्रिमिनलस्स जमीन पर बैठे दिख रहे हैं, जिनमें तीन की तस्वीरें साफ हैं जबकि अन्य तीन का हाथ व सिर दिख रहा है। फोटो में साफ नजर आ रहा है कि जमीन पर अखबार बिछा है और एक थाली में मुर्गा रखा है, जबकि सभी हाथ में जाम थामे जश्न मना रहे हैं।

इलाहाबाद / प्रयागराज । उत्तर प्रदेश की हाई सेक्यूरिटी जेलों में से एक नैनी सेंट्रल जेल प्रयागराज से ब़डी खबर है। यहां जेल के अंदर से ऐसी तस्वीरें वायरल हुई हैं, जिसने पूरे सूबे में हड़कंप मचा दिया है। सेंट्रल जेल के अंदर शराब और मुर्गा पाट्री करते हुये कुछ नामी बदमाशों की फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हुई है, जिससे जेल प्रशासन की सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल उठ खड़े हुये हैं। मामले में एडीजी जेल चंद्रप्रकाश ने सख्त कार्रवाई के संकते दिये हैं और 24 घंटे के अंदर इस पूरे मामले पर रिपोर्ट मांगी है। इस पूरे घटनाक्रम की जांच अब डीआईजी बीआर वर्मा करेंगें ।
क्या है वायरल फोटो में
सोशल मीडिया पर वायरल हुई तस्वीर में 6 क्रिमिनलस्स जमीन पर बैठे दिख रहे हैं, जिनमें तीन की तस्वीरें साफ हैं जबकि अन्य तीन का हाथ व सिर दिख रहा है। फोटो में साफ नजर आ रहा है कि जमीन पर अखबार बिछा है और एक थाली में मुर्गा रखा है, जबकि सभी हाथ में जाम थामे जश्न मना रहे हैं। फोटो कैसे वायरल हुई और कब की है अभी इस पर स्थिति साफ नहीं हो सकी है। लेकिन जो बदमाश फोटो में दिख रहे हैं, उन पर आपराधिक मामलों की लंबी फेरहिस्त है और वह नैनी जेल में ही बंद हैं। फोटो बाहर आने से फिलहाल यह साफ हो गया है कि जेल के अंदर स्मार्ट फोन का इस्तेमाल हो रहा है।
कौन दिख रहा फोटो में
दारू मुर्गा पार्टी वाली वायरल तस्वीर में दिख रहे अपराधियों की पहचान हो गयी है। ब्लैक टीशर्ट में सबसे गिनारे बैठा युवक गदऊ पासी है, जिस पर पचास हजार का इनाम भी घोषित किया गया था। इस पर दर्जनभर से अधिक मुकदमें दर्ज हैं। इनमें गुलाबी रंग का टीशर्ट वाला शख्स फाफामऊ का पार्षदपति राज कुमार बताया जा रहा है। जो हत्या के मामले में काफी समय से जेल में बंद है। जबकि भूरे रंग के टीशर्ट में ग्लास लेकर चीयर्स कर रहा दूसरा शख्स उदय यादव है, जिस पर पचास हजार का इनाम घोषित था।  वहीं, गुलाबी रंग की बाह वाली शर्ट पहना शख्स रानू बताया जा रहा है, जिसने पिछले साल कैंट स्थित दुर्गा पूजा पंडाल में नीरज बाल्मीकि को बम और गोलियों से भून कर पूरे यूपी में हडकंप मचा दिया था। हालांकि इसके अलावा अन्य चेहरे फोटो में स्पष्ट न होने के कारण पहचाने नहीं जा सके हैंं
इस मामले में वरिष्ठ जेल अधीक्षक एचबी सिंह ने कहा है कि फोटो किसी होटल की है और जेल से इसका कोई संबंध नहीं है। हालांकि कुछ देर पहले मीडिया कर्मियों को बताया गया था कि यह फोटो दानिश नाम के एक अपराधी ने काफी समय पहले खींची थी, जिसमें दानिश को पर सख्त कार्रवाई करते हुये हाई सिक्यूरिटी शेल में रखा गया है। लेकिन तब की फोटो आज कैसे वायरल हुई, इस पर बड़ा सवाल जेल प्रशासन की मुश्किलें बढा रहा है।
Attachments area

Written by Amarish Shukla

Five-day art workshop inaugurated in Raj Bhavan lko governor ram naik will honoured winners

राजभवन में पांच दिवसीय कला कार्यशाला का उद्घाटन हुआ

हावड़ा-जोधपुर एक्सप्रेस में अचानक रोने लगी 7 साल की बच्ची, बतायी अंकल की करतूत तो यात्रियों ने पिटाई कर जीआरपी को सौंपा