in ,

LUCKNOW; पहले ही दिन विधानसभा स्थगित, सदन में दिखा गठबंधन

लखनऊ : यूपी विधानमंडल के बजट सत्र के पहले दिन राज्यपाल के अभिभाषण के दौरान  समाजवादी पार्टीबहुजन समाज पार्टी के विधायकों जमकर हंगामा किया। विधायकों ने राज्यपाल के ऊपर कागज के गोले फेंके। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सदन में सपा-बसपा के इस कृत्य की निंदा की है।

विधानसभा में विपक्ष के हंगामे के बीच राज्यपाल का अभिभाषण संपन्न हो गया। समाजवादी पार्टी के सदस्यों ने उनके ऊपर गोले फेंके। राज्यपाल वापस जाओ के नारे लगाए और सरकार विरोधी नारों से माहौल गर्मा दिया। विधानसभा को कल दिन में 11 बजे तक के लिए स्थगित किया गया है। विधानसभा में हंगामे के दौरान सपा सदस्य सुभाष पासी बेहोश हुए। जल्दी से उन्हें अस्पताल पहुंचाया गया। सुभाष पासी गाजीपुर जिले के विधायक हैं।

विधान भवन के सेंट्रल हॉल में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पत्रकारों से कहा सपा, बसपा और कांग्रेस तीनों का आचरण निंदनीय के साथ ही असांविधानिक और अलोकतांत्रिक है। इससे सदन की गरिमा तार-तार हुई है। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि समाजवादी पार्टी के माननीयों ने ने गुंडागर्दी की हद पार कर दी थी। राज्यपाल के ऊपर कागज के गोले बनाकर फेंके। इससे साबित होता है कि सपा गुंडागर्दी की आचरण से अभी भी बाज नहीं आई है।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि  समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के विधायकों ने राज्यपाल के अभिभाषण के दौरान उनका जिस तरह का अपमान किया है। हम उसकी निंदा करते हैं। राज्यपाल राम नाईक अपना अभिभाषण पढ़ रहे थे और माननीय लोग अभद्रता की सीमा लांघ रहे थे। इनका यह कृत्य घोर निंदनीय है।

विधान भवन परिसर में स्थित चौधरी चरण सिंह की प्रतिमा के निकट सुबह दस बजे सपा-बसपा एक साथ धरना पर बैठे । नीली-लाल टोपियां पहनकर बसपा व सपा सदस्य सरकार विरोधी नारे लिखी तख्तियां भी लेकर आए।

Written by Ranjeev Thakur

Comments

Leave a Reply

Loading…

0

Comments

0 comments

क्या है बजट की असलियत ? अतुल आक्रोश की कलम से..

सीबीआइ के सामने पेश हो कमिश्नर राजीव कुमार -SC, ममता बनर्जी ने कहा बंगाल की जीत