in

प्रयाग में कंस मामा ने 8 साल के भांजे का गला घोंटा और फिर पानी की टंकी से नीचे फेंक कर मार डाला

इलाहाबाद / प्रयागराज : धर्मनगरी प्रयागराज में रिश्तों को शर्मशार करती हुई एक खौफनाक घटना हुई है। यहां एक कंस रूपी मामा ने अपने भांजे की हत्या कर दी है। मृतक बच्चे की उम्र मात्र 8 साल है । पुलिस ने बताया कि हत्यारे ने बच्चे का पहले गला घोंटा और फिर उसे पानी की टंकी से नीचे जमीन पर फेक दिया । जांच में पता चला है कि आरोपित से बच्चे के पिता से पैसे के लेनदेन का विवाद चल रहा था और उसका खामियाजा बच्चे को अपनी जांन देकर चुकाना पड़ा है। घटना शहर के  धूमनगंज इलाके में मुंडेरा मंडी में हुई है। बच्चे का नाम दिलकश है और वह कुछ दिन पहले ही प्रयागराज में पिता के पास पढने के लिये आया हुआ था। पुलिस आरोपी मामा अशफाक को गिरफ्तार कर लिया है, पुलिस कहना है कि अशफाक ने अपना जुर्म कबूल लिया है। उसका झगड़ा दिलकश के पिता जियाउल से था और 20 हजार रूपये के लेनदेन में उसने वारदात को अंजाम दिया है।
चंद दिन पहले ही आया था शहर
बिहार के सहरसा जिले के मैसी थाना क्षेत्र स्थित भिलाई गांव निवासी मो. जियाउल कुछ साल पहले अपने रिश्तेदारों के पास प्रयागराज काम की तलाश में आया था। यहां वह अपने रिश्तेदार की मदद से मुंडेरा मंडी में पल्लेदारी करने लगा। मुंडेरा मंडी राज्यस्तरीय   साब्जी व खाद्य मंडी है और काम की कमी न होने के कारण वह कमाई भी अच्छी करने लगा। जियाउल ने यहीं कमरा ले लिया और फिर अपने बेटे दिलकश को अच्छी शिक्षा दिलाने के लिये उसे प्रयागराज बुला लिया। अभी चंद रोज पहले ही दिलकाश बिहार से प्रयागराज आया था ओर पिता के साथ रहने लगा था।
रविवार को हुआ था लापता
दिलकश अपने पिता के साथ आखिरीबार रविवार की शाम मुंडेरा मंडी गया हुआ था और वहीं से अचानक लापता हो गया था। पिता समेत साथियों ने तलाश शुरू की लेकिन दिलकश का कोई पता नहीं चला। देर रात मामले में पुलिस से मदद मांगी गयी तो सोमवार को बच्चे की तलाश शुरू हुई। दोपहर बाद मछली मंडी की तरफ बने खंडहर नुमा मकान के पास दिलकश की लाश कुछ लोगों ने देखी तो हड़कंप मच गया। लोगों की भीड़ जुटी और हंगामा शुरू हुआ तो पिता ने दिलकश के मामा अशफाक पर हत्या का आरोप लगाया।
गिरफ्तार हुआ आरोपी
एसपी क्राइम आशुतोष मिश्र ने बताया कि बच्चे की हत्या के आरेपी अशफाक घटना के बाद बिहार भागने के लिये बस स्टेंड पहुंच चुका था, लेकिन सटीक सूचना पर उसे दबोच लिया गया। पूछताछ में उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया है। एसपी ने बताया कि अशफाक ने जियाउल से 20 हजार रुपये उधार लिए थे और इसी पैसे को नहीं लौटाने पर दोनों के बीच विवाद बढ़ गया था। पिछले सप्ताह जियाउल ने थाने में रिपोर्ट लिखाकर जेल भेजने की धमकी दी थी। सबके बीच बेईज्जत होने के बाद उसने हत्या का प्लान बनाया और बदला लेने के लिए भांजे दिलकश को पानी की टंकी पर ले गया। मासूम भांजा, मामा के प्लान से अंजान था। पानी की टंकी पर ही अशफाक ने उसका गला घोंटा और फिर पानी की टंकी से उसे नीचे फेंक दिया। जिससे कि यह लगे की उसकी मौत टंकी से गिरकर हुई है। आरोपी अशफाक बिहार के सहरसा जिला में जलई थानान्तर्गत महेशी गांव का रहने वाला है।
Nokia [CPS] IN

Written by Amarish Shukla

दरवेश यादव की हत्या के बाद चल रहा कुर्सी का विवाद थमा, हरिशंकर सिंह बने बार यूपी बार कौंसिल अध्यक्ष

यूपी बोर्ड : 18 फरवरी को हिंदी, 22 को अंग्रेजी, 25 को गणित…देख लीजिये किस विषय की कब होगी परीक्षा