in ,

जयशंकर तिवारी स्मारक अंतर स्कूल शतरंज चैंपियनशिप; पृथ्वी सिंह बने चैंपियन

Jai Shankar Tiwari Memorial Inter School Open Chess championship Prithvi emerged champion
Jai Shankar Tiwari Memorial Inter School Open Chess championship Prithvi emerged champion

लखनऊ : सातवीं जय शंकर तिवारी स्मारक अंतर स्कूल शतरंज चैंपियनशिप में पृथ्वी सिंह चैंपियन बने. Jai Shankar Tiwari Memorial Inter School Open Chess championship Prithvi emerged champion

स्थानीय डीएवी कॉलेज में खेली जा रही सातवीं जय शंकर तिवारी  स्मारक अंतर स्कूल शतरंज चैंपियनशिप के कक्षा 8 तक के वर्ग के छठे व् अंतिम चक्र के उपरान्त स्टडी हॉल के पृथ्वी सिंह ने डी पी एस जानकीपुरम की ईशिता मोहपात्रा को एकतरफा खेल में हरा कर ६ अंको के साथ चैंपियन होने का गौरव प्राप्त किया.

Nokia [CPS] IN

केन्द्रीय विद्यालय की अद्रिका मिश्रा ने सी एम एस इंदिरा नगर के सैयद ए आर शाहीर को जबरदस्त मारकाट से भरे खेल में शिकस्त दे कर ५ अंकों सहित दूसरे स्थान पर कब्ज़ा जमाया.

यद्यपि अद्रिका और डी पी एस एल्डिको के मधुर सिंह दोनों ने 5-5 अंक अर्जित किये परन्तु, दूसरे चक्र में अद्रिका के हाथो पराजित होने की वजह से टाई ब्रेक के अनुसार उन्हें तीसरे स्थान से संतोष करना पड़ा.

डी पी एस एल्डिको के तुषार रंग्लानी और सैयद ए आर शाहीर ने 4-4 अंक अर्जित किये किन्तु, टाई ब्रेक के चलते उन्हें क्रमशः चौथा एवं पांचवा स्थान प्राप्त हुआ.

Jai Shankar Tiwari Memorial Inter School Open Chess championship Prithvi emerged champion

अन्तर्राष्ट्रीय इतिहास एवं नागरिक शास्त्र महोत्सव ‘रिफलेक्शन-2019’ सी.एम.एस. में 31 अगस्त से

31 अगस्त से 3 सितम्बर तक सी.एम.एस. कानपुर रोड आडिटोरियम में किया जा रहा है। इस अन्तर्राष्ट्रीय महोत्सव में नेपाल, श्रीलंका, बांग्लादेश एवं भारत के विभिन्न प्रान्तों से लगभग 500 छात्र अपनी प्रतिभा व ज्ञान का प्रदर्शन करने लखनऊ पधार रहे हैं।

उक्त जानकारी यहाँ आयोजित प्रेस कान्फ्रेन्स में ”रिफलेक्शन-2019“ की संयोजिका व सी.एम.एस. महानगर कैम्पस की प्रधानाचार्या डा. कल्पना त्रिपाठी ने दी। डा. त्रिपाठी ने बताया कि ‘रिफलेक्शन-2019’ के अन्तर्गत देश-विदेश के छात्रों को एक अन्तर्राष्ट्रीय मंच पर अपने ज्ञान को जांचने का अवसर तो मिलेगा ही, साथ ही विचारों के आदान-प्रदान से एक-दूसरे की सभ्यता और संस्कृति से भी अवगत होंगे।

International Festival of History and Civics 'Reflections-2019' at CMS from August 31
International Festival of History and Civics ‘Reflections-2019’ at CMS from August 31

प्रेस कान्फ्रेन्स में पत्रकारों से बातचीत करते हुए डा. त्रिपाठी ने कहा कि भावी पीढ़ी के कंधो पर ही यह जिम्मेदारी है कि वे समाज को एक नया मोड़ दें और इसीलिए यह आवश्यक है कि विभिन्न देशों के छात्र एक अन्तर्राष्ट्रीय मंच पर एक दूसरे से मिलें व निर्भय होकर अपने विचारों की अभिव्यक्ति करें। इन्हीं विचारों के अनुरूप लखनऊ की सरजमीं पर इतिहास एवं नागरिक शास्त्र का यह अन्तर्राष्ट्रीय महोत्सव आयोजित किया जा रहा है।

रिफलेक्शन-2019 की प्रतियोगिताओं की जानकारी देते हुए डा. त्रिपाठी ने बताया कि इस आयोजन की प्रतियोगिताए स्वयं में ही इतना आकर्षण समेटे हैं कि देश-विदेश के छात्र इसमें प्रतिभाग हेतु उत्साहित होंगे और उनमें इतिहास व नागरिक शास्त्र जैसे विषयों की ओर रुचि बढ़ेगी।

उन्होंने बताया कि ‘रिफलेक्शन-2019’ की प्रतियोगिताओं में एंटीक्विटी (क्विज), लेसियम्स सोफिस्ट्री (एक्सटेम्पोर), सेल्फ ओडिसी (क्रिएटिव राइटिंग), हाइरोग्लिफक्स (ब्रोशर-मेकिंग), द लास्ट सुपर (पोस्टर मेकिंग), डायलेक्टिक (डिबेट), असेम्बली आफ इस्लीशिया (ग्रुप डिस्कशन), डोनाटेलोज डेविड (माडल डिस्प्ले), साकर्टीज स्पीच, इलिसियन थियेटर (मूवी मेकिंग), परसुईट, रिदम एण्ड विजन (कोरियोग्राफी) आदि प्रमुख हैं।

उन्होंने कहा कि इन रोचक प्रतियोगिताओं से छात्रों का न सिर्फ ज्ञानवर्धन होगा बल्कि वे एक दूसरे की संस्कृति व सभ्यता भी जानेंगे और आपसी समझ भी पनपेगी।

इस अवसर पर सी.एम.एस. संस्थापक व प्रख्यात शिक्षाविद् डा. जगदीश गाँधी ने कहा कि शिक्षा के माध्यम से हमें ऐसे बीज बोने है जिससे विश्व एकता व विश्व शान्ति पर आधारित एक नया समाज गठित हो। यह अन्तर्राष्ट्रीय महोत्सव युवा पीढ़ी व भावी पीढ़ी को आने वाले वक्त के लिए तैयार हेतु एक क्रान्तिकारी कदम है। भावी पीढ़ी जैसे जैसे अपने विगत इतिहास व पुरातन सभ्यताओं को समझेगी, वैसे ही उनमें आने वाले कल के लिए नई समझ पैदा होगी और यही आगे चलकर न्याय, एकता व शान्ति पर आधारित विश्व समाज की आधारशिला बनेगा।

Nokia [CPS] IN

सी.एम.एस. के मुख्य जन-सम्पर्क अधिकारी हरि ओम शर्मा ने बताया कि ‘रिफलेक्शन-2019’ का भव्य उद्घाटन 31 अगस्त, शनिवार को सायं 5.00 बजे सी.एम.एस. कानपुर रोड आडिटोरियम में सम्पन्न होगा। इस अवसर पर सी.एम.एस. छात्र शिक्षात्मक-साँस्कृतिक कार्यक्रमों की छटा बिखेरेंगे तथापि कई प्रख्यात हस्तियों की उपस्थित समारोह की गरिमा को बढ़ायेगी। ‘रिफलेक्शन-2019’ में देश-विदेश की लगभग 60 छात्र टीमें प्रतिभाग कर रही हैं।

Nokia [CPS] IN

Written by National TV

on birth anniversary Rajiv Gandhi sacrificed himself for the unity and integrity of the country: Raj Babbar

राजीव गांधी ने देश की एकता और अखण्डता के लिए अपने आपको बलिदान किया : राजबब्बर

Lord Ramlala of Ayodhya minor, his property cannot be sold or taken away: Lawyer CS Vaidyanathan in Supreme court

अयोध्या के भगवान रामलला नाबालिग, उनकी संपत्ति को बेचा या छीना नहीं जा सकता : वकील सीएस वैद्यनाथन