in

इग्नू द्वारा वल्र्ड एल्डर अब्यूज अवेयरनेस डे पर जागरूकता हेतु चर्चा का आयोजन

IGNOU organizes Awareness on World Elder Abuse Awareness Day
IGNOU organizes Awareness on World Elder Abuse Awareness Day

लखनऊ : इन्दिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय, क्षेत्रीय केन्द्र लखनऊ द्वारा आस्था ओल्उ ऐज होम एवं हाॅस्पिटल, लखनऊ के साथ मिलकर समर्थ संस्था के सहयोग से वल्र्ड एल्डर अब्यूज अवेयरनेस डे की पूर्व संध्या पर जागरूकता हेतु एक चर्चा का आयोजन किया। IGNOU organizes an Awareness on World Elder Abuse Awareness Day

इस हेतु समुदाय के युवा बच्चों को आज अस्पताल में निवासरत् वृद्ध से मिलवाया गया और युवाओं को अपने बुर्जुगों से बेहतर संवाद करने के लिए प्रेरित किया।

Nokia [CPS] IN

इग्नू क्षेत्रीय निदेशक डाॅ0 मनोरमा सिंह ने उपस्थित युवाओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि बेहतर अनुभव आपको एक बुजुर्ग से बात करके ही मिल सकता है, जबकि आज के समय में युवाओं को फेसबुक और व्हासएप पर ही लगे रहते हैं, जिससे उनको न तो अनुभव मिलता है और न ही वह उन गलतियों को दोहराते रहते हैं, जिसे वह सुधार सकते थे।

IGNOU organizes Awareness on World Elder Abuse Awareness Day
IGNOU organizes Awareness on World Elder Abuse Awareness Day

डाॅ0 सिंह ने बताया कि आस्था ओल्ड ऐज होम महानगर में निवास कर रही 87 वर्षीय लक्ष्मी श्रीवास्तव ने अपना नामांकन इग्नू द्वारा संचालित पोषण एवं आहार प्रमाण-पत्र कार्यक्रम में कराया और अन्य लोगों के लिए प्रेरणा का श्रोत बनी। अन्य बुजुर्गों को भी उनसे प्रेरणा लेने की आवश्यकता है।

इग्नू सहायक क्षेत्रीय निदेशक डाॅ0 कीर्ति विक्रम सिंह ने बताया की किस प्रकार से जीवन के लिए अनुभव की आवश्यकता होती है और यह तभी सम्भव है जबकि आप अपने बुजुर्ग के साथ बात किए हो और उनका अनुभव अपने जीवन में उतार पाये हो।

अब अन्तर्राष्ट्रीय मुद्दा हो चुका है क्योंकि देश के विकास और वृद्धि में ये बडे़ तौर पर बाधक बन चुका है। इस परिस्थिति में न तो राष्ट्र की उन्नति सम्भव है, न ही समाज की उन्नति अतः ये केवल सरकार की जिम्मेदारी नहीं है बल्कि इस पर सभी सामाजिक संगठनों और अभिभावकों द्वारा भी कार्य करना चाहिए तभी बुजुर्गों से साथ होने वाले बुरे बर्ताव पर रोकथाम सम्भव है।

IGNOU organizes Awareness on World Elder Abuse Awareness Day

समर्थ संस्था के सचिव डाॅ0 प्रवेष द्विवेदी ने बताया कि युवा किसी भी देश के लिये उज्जव भविष्य होते हैं परन्तु देश के भविष्य को जब तक उसके बुजुर्गों की सीख नहीं मिल रही हो तब तक शिखर पर पहुँचना मुश्किल होता है। हमारी संस्कृति बुजुर्गों का सम्मान करने की बात सिखाती है। मगर, लगता है कि हम इस बात को पढ़ते हैं, सुनते हैं और भूल जाते हैं।

समर्थ की तरफ आए हुए ग्रामीण समुदाय के युवाओं को यह समझाया गया कि सार्वजनिक जीवन में बुजुर्गाें के साथ बहुत शर्मनाक व्यवहार करते हैं, खासतौर से बुजुर्ग महिलाओं को ज्यादा खराब हालात का सामना करना पड़ता है क्योकि वह प्रायः दूसरों पर आश्रित रहती हैं। अतः युवाओं को अपने बुजुर्गों के साथ हमेशा जुड़कर रहना चाहिए। कार्यक्रम में समर्थ की तरफ से अपर्णा, रेखा एवं कौशिकी एवं मलिन बस्ती से सभी घरों के लड़कियों, लड़को एवं उनके अभिभावकों ने प्रतिभाग किया।

Nokia [CPS] IN

आस्था ओल्ड ऐज होम एवं हाॅस्पिटल के डाॅ0 अभिषेक शुक्ला ने इग्नू की इस पहल को बहुत सराहा और कहा कि समय-समय पर ऐसे कार्यक्रमों का आयोजन होते रहने चाहिए, जिससे वृद्धों में एक नयी ऊर्जा का संचार होता है।

Nokia [CPS] IN

Written by National TV

doctors national strick cm mamta benarjee effort to convince IMA

19 राज्यों के डॉक्टरों ने एकसाथ मिलकर 17 जून को देशव्यापी हड़ताल की घोषणा की

up bjp attack on akhilesh yadav for sc st and backward classes

जाति का घोटाला करने वाले अखिलेश यादव को नसीहत देने का हक नहीं – हरिश्चन्द्र श्रीवास्तव