in ,

यूपी बोर्ड परीक्षा में अगर हुए हैं फेल तो यह प्रक्रिया अपना कर हो जायेंगे पास

प्रयागराज / इलाहाबाद ।  उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद की बोर्ड परीक्षा में हाईस्कूल में फेल हुए परीक्षार्थियों के लिए अभी सारे रास्ते बंद नहीं हुए हैं । वह बोर्ड के कुछ नियमों का पालन कर पास हो सकते हैं । उसके लिए उन्हें बोर्ड के द्वारा की जाने वाली कुछ प्रक्रिया का पालन करना होगा, जिससे वह पास हो सकते हैं । इस बाबत जानकारी देते हुए यूपी बोर्ड की सचिव नीना गुप्ता ने बताया कि परीक्षार्थी कंपार्टमेंट परीक्षा के साथ स्कूटनी द्वारा पास हो सकते हैं। बोर्ड जल्द ही इन दोनो प्रक्रिया की डेट्स जारी करेगा। परीक्षार्थी बोर्ड की वेबसाइट पर इसकी जानकारी देख सकेंगे और ऑनलाइन ही आवेदन कर सकेंगे।
कौन हो सकता है पास
सचिव, यूपी बोर्ड नीना श्रीवास्तव ने बताया कि जो बच्चे एक विषय में फेल हैं वह उस सब्जेक्ट की स्क्रूटनी कराये और अगर तब भी पास नहीं होते तो वह कंपार्टमेंट परीक्षा में शामिल होकर फिर से परीक्षा दे। हां कंपार्टमेंट परीक्षा में शामिल होने से पहले अपनी तैयारी अच्छे से कर लें ताकि संबंधित विषय की परीक्षा पास कर लें।
समझ ले क्या होती है इंप्रूवमेंट और कंपार्टमेंट परीक्षा
यूपी बोर्ड हाईस्कूल में 6 विषय होते हैं और उनमें से अगर पांच विषय में परीक्षार्थी है तो वह पास माना जायेगा। लेकिन वह चाहे तो जिस विषय में वह फेल हुआ है, उस विषय की परीक्षा दोबारा देकर उसमे भी पास हो सके। इस सुविधा को इंप्रूवमेंट परीक्षा कहते हैं। इस परीक्षा के के लिए ऐसे सभी छात्र अर्ह होते हैं जो हाईस्कूल के छह में से कम से कम पांच विषय ही उत्तीर्ण हों।
वहीं,  कंपार्टमेंट परीक्षा के तहत परीक्षार्थी को थोडी और अधिक सुविधा मिलती है। कंपार्टमेंट परीक्षा के तहत अगर 6 विषय में परीक्षार्थी ने सिर्फ 4 ही विषय में सफलता पायी है और वह 2 विषय में फेल है तब वह उन दोनों विषयों में से किसी एक विषय की परीक्षा में बैठ कर फिर से परीक्षा दे सकता है। और कंपार्टमेंट परीक्षा में पास होने पर उसे बोर्ड परीक्षा में भी पास कर नयी मार्कसीट जारी की जाती है। यानी कंपार्टमेंट परीक्षा के लिए वह अभ्यर्थी अर्ह होते हैं जो छह में कम से कम चार विषयों में पास हों और जिन विषय में फेल हुये हैं उसमें से किसी एक विषय की परीक्षा देना चाहते हों।
कब होगी कंपार्टमेंट परीक्षा
हाईस्कूल कंपार्टमेंट परीक्षा जुलाई में आयोजित की जाएगी। इस परीक्षा में ऐसे परीक्षार्थी शामिल हो सकते हैं जो दो विषयों में फेल हैं। विद्यार्थियों के लिए किसी एक विषय में परीक्षा देकर पास होने की सुविधा मिलेगी। बता दें कि  स्क्रूटनी व कंपार्टमेंट प्रक्रिया की सुविधा हर बार बच्चो को मिलती है। इसके द्वारा किसी विषय में कम अंक को और अधिक अंक में बदलने के लिये भी परीक्षार्थी इस्तेमाल करते हैं। इससे संबंधित सभी जानकारी बोर्ड के आधिकारिक वेबसाइट आपको पर मिल जाएगी।
3.7 लाख परीक्षार्थी दे सकेंगे इंप्रूवमेंट परीक्षा
यूपी बोर्ड की सचिव नीना श्रीवास्तव ने बताया कि यूपी बोर्ड ने हाईस्कूल की इंप्रूवमेंट और कंपार्टमेंट परीक्षा के लिऐ अर्ह पाये गये परीक्षार्थियों की संख्या भी जारी कर दी है। इस बार 3 लाख 69 हजार 876 परीक्षार्थी इंप्रूवमेंट परीक्षा में शामिल हो सकेंगे। जबकि इसके अलावा कंपार्टमेंट परीक्षा में 580 अभ्यार्थी शामिल हो सकेंगे ।
Nokia [CPS] IN

Written by Amarish Shukla

प्रयागराज . UP board result 2019: मातृभाषा हिंदी में 9 लाख 98 हजार परीक्षार्थी फेल

UP BOARD RESULTS : जेल में बंद 117 कैदियों ने जेल से पास की बोर्ड परीक्षा