in

गाजियाबाद, गौतमबुद्धनगर और मेरठ में चल रहे मसाज पार्लरों, हेयर स्पॉ पर हाईकोर्ट सख्त, बंद कराने का आदेश

इलाहाबाद / प्रयागराज : उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद, गौतमबुद्धनगर और मेरठ में चल रहे मसाज पार्लरों, हेयर स्पॉ की ढेरों शिकायतों के बाद एक जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुये हाईकोर्ट ने इन्हें बंद करने का आदेश दिया है। जनहित याचिका में बताया गया है कि स्पा पार्लरों और मसाज सेंटरों के अलावा ब्यूटी पार्लरों की आड़ में अनैतिक देह व्यापार के अड्डे संचालित किए जा रहे हैं। लगातार इसके खुलासे हो रहे हैं, बावजूद इसके इन पर कोई सख्त कार्रवाई नहीं की जा रही है। याचिका में कयी अखबारों द्वारा उठायी गयी खबरों का भी जिक्र किया और हाईकोर्ट को गूगल आदि पर उपलब्ध इनके विज्ञापन की रिपोर्ट भी दी गयी। जिस पर हाईकोर्ट ने बेहद ही सख्त लहजे में प्रशासनिक अमले पर नाराजगी व्यक्त करते हुये पुलिस को आदेश दिया कि जिन स्थानों की शिकायतें की गयी हैं, उन पर तत्काल पुलिस एक्शन लें । हाईकोर्ट ने इस बावत योगी सरकार से एक रिपोर्ट भी मांगी है और सरकार को अपना पक्ष भी रखने को कहा है।

गूगल पर विज्ञापन देने वालों को ढूंढे

Nokia [CPS] IN

इलाहाबाद हाईकोर्ट में सेंटर फॉर ह्यूमन राइट की याचिका पर न्यायमूर्ति पीकेएस बघेल और न्यायमूर्ति पीयूष अग्रवाल की डबल बेंच में सुनवाई शुरू हुई तो कोर्ट को दर्जनों की संख्या में ऐसे स्थानों की पूरी डिटेल सौंपी गयी जहां अनैतिक देह व्यापार के अड्डे चलाये जा रहे थे। खास बात यह है कि इन अड्डों का सीधे पता गूगल तक पर दिया गया गया है। गूगल पर इनके विज्ञापन चल रहे हैं और गूगल मैप से यहां तक पहुंचने का पूरा रास्ता भी उपलब्ध कराया जा रहा है। आश्चर्य की बात यह है कि यह सबकुछ  स्पा पार्लरों और मसाज सेंटरों, ब्यूटी पार्लरों की आड़ में हो रहा है। पुलिस, को अधिकांश अड्डों की खबर होने के बावजूद भी लापरवाही बरतने पर हाईकोर्ट ने सख्त नाराजगी व्यक्त की है और एसएसपी गौतमबुद्धनगर को स्कार्ट सर्विस का विज्ञापन देने वाली संस्थाओं का पता लगाकर फौरन कार्रवाई करने के साथ ही अगली सुनवाई पर व्यक्तिगत हलफनामा दाखिल करने का निर्देश दिया है।

कयी शहरों में जाल

Nokia [CPS] IN

याचिका में हाईकोर्ट को बताया गया है कि स्पा पार्लरों और मसाज सेंटरों, ब्यूटी पार्लरों की आड़ में चल नहे अनैतिक धंधे का खेल किसी एक शहर में नहीं चल रहा है। बल्कि कयी जिलों में गोरखधंध जोरों पर हैं। प्रमुख रूप से गाजियाबाद, गौतमबुद्धनगर और मेरठ में चल रहे स्पा पार्लरों और मसाज सेंटरों, ब्यूटी पार्लरों की आड़ में अनैतिक देह व्यापार के अड्डे संचालित किए जा रहे हैं। कोर्ट को बताया गया है कि इन पार्लरों में किशोरावस्था की छात्र-छात्राएं बड़ी संख्या में लिप्त हैं। इन पर फौरन एक्शन की जरूरत है। कोर्ट ने शिकायत में जिन सेंटरों का गूगल डाटा उपलब्ध कराया गया है, उन पर फौरन कार्रवाई के साथ रिपोर्ट भी तलब की है। इस याचिका पर अगली सुनवाई 6 दिसंबर को होगी।

Nokia [CPS] IN

Written by Amarish Shukla

आल इंडिया फेयर प्राइस शॉप डीलर एसोसिएशन संघ बरहज के कोटेदारों ने अपनी मांगों को लेकर किया रासन उठान का बहिष्कार

सपा विधायक नाहिद की गिरफ्तारी रोकने की याचिका खारिज, हाईकोर्ट ने कहा सरेंडर करें