in

महाराणा प्रताप जयंती पर राज्यपाल राम नाईक एवं महापौर संयुक्ता भाटिया ने अर्पित की पुष्पांजलि

governer ram naik mayor sanyukta bhatiya paid tribute to maharana pratap on birthday
governer ram naik mayor sanyukta bhatiya paid tribute to maharana pratap on birthday
लखनऊ। गुरुवार को महाराणा प्रताप जयंती के अवसर पर राज्यपाल राम नाईक एवं महापौर संयुक्ता भाटिया ने हुसैनगंज चौराहे स्थित महाराणा प्रताप की मूर्ति पर पुष्पांजलि अर्पित की। governer ram naik mayor sanyukta bhatiya paid tribute to maharana pratap on birthday
इस मौके पर महापौर संयुक्ता भाटिया ने कहा कि महाराणा प्रताप की वीरता विश्व विख्यात है। उन्होंने अपनी मातृभूमि की स्वतंत्रता और स्वाभिमान के लिए अपने सिंहासन को छोड़ दिया और जंगलों में अपना जीवन बिताया लेकिन मुग़ल बादशाह अकबर के सामने मरते दम तक अपना शीश नहीं झुकाया। देश की सर्वोच्चता एवं स्वतंत्रता के प्रति संकल्पित वीर शासक एवं महान देशभक्त महाराणा प्रताप का नाम इतिहास में स्वर्ण अक्षरों से अंकित है।
महापौर ने आगे कहा कि जब पूरे हिन्दुस्तान में अकबर का साम्राज्य स्थापित हो रहा था, तब वे 16वीं शताब्दी में अकेले राजा थे जिन्होंने अकबर के सामने खड़े होने का साहस किया। वे जीवन भर संघर्ष करते रहे लेकिन कभी भी स्वंय को अकबर के हवाले नहीं किया। जब मेवाङ की सत्ता राणा प्रताप ने संभाली, तब आधा मेवाङ मुगलों के अधीन था और शेष मेवाङ पर अपना आधिपत्य स्थापित करने के लिये अकबर प्रयासरत था।
governer ram naik mayor sanyukta bhatiya paid tribute to maharana pratap on birthday
governer ram naik mayor sanyukta bhatiya paid tribute to maharana pratap on birthday
महापौर संयुक्ता भाटिया ने कहा कि राजस्थान के कई परिवार अकबर की शक्ति के आगे घुटने टेक चुके थे, किन्तु महाराणा प्रताप अपने वंश को कायम रखने के लिये संघर्ष करते रहे और अकबर के सामने आत्मसर्मपण नही किये और जंगल-जंगल भटकते हुए तृण-मूल व घास-पात की रोटियों में गुजर-बसर कर पत्नी व बच्चे को विकराल परिस्थितियों में अपने साथ रखते हुए भी उन्होंने कभी धैर्य नहीं खोया।
महापौर संयुक्ता भाटिया ने कहा कि आज भी महाराणा प्रताप का नाम असंख्य भारतीयों के लिये प्रेरणा स्रोत है। राणा प्रताप का स्वाभिमान भारत माता की पूंजी है। वह अजर अमरता के गौरव तथा मानवता के विजय सूर्य है। राणा प्रताप जी की देशभक्ति पत्थर की अमिट लकीर है।
इस मौके पर राज्यपाल ने भी सम्बोधित किया।
इस मौके प राज्यपाल राम नाईक, महापौर संयुक्ता भाटिया, अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ठाकुर उमाशंकर सिंह सहित अन्य लोग उपस्थित रहें।
Nokia [CPS] IN

Written by National TV

supreme court ordered to yogi government for release journalist prashant kanaujiya

अधिवक्ताओं के लिए आवासीय व्यवस्था बनाने जा रही है सरकार – योगी आदित्यनाथ

lok sabha election pm modi attack on mamata banerjee for slap statement in purulia west bengal

ममता दीदी आपके इस थप्पड़ वाले प्यार को मैं ब्याज समेत लौटाऊंगा, पीएम मोदी का पलटवार