in ,

खाटू श्याम मंदिर में किया गया संस्कारी बच्चों का सम्मान

geeta parivar arjun bhav sanskar path camps children honored at khatu shayam tempel lko
geeta parivar arjun bhav sanskar path camps children honored at khatu shayam tempel lko

लखनऊगीता परिवार की ओर से चल रहे सात दिवसीय अर्जुन भव संस्कार पथ शिविर का खाटू श्याम मंदिर में समापन हुआ। इस मौके पर प्रतियोगिता के विजयी बच्चों को पुरस्कृत किया गया। geeta parivar arjun bhav sanskar path camps children honored at khatu shayam tempel lko

न्यू हैदराबाद के खाटू श्याम मंदिर में रंगायन स्पर्धा में प्रेरणा, महाभारत के पात्रों के नाम में आंचल, श्रीमद्भगवद् गीता श्लोक स्पर्धा में आदर्श, आदर्श शिविरार्थी में सारिका ने बाजी मारी।

इस अवसर पर श्री श्याम परिवार के अध्यक्ष वीरेन्द्र अग्रवाल, महामंत्री रूपेश, उपाध्यक्ष सुधीर गर्ग, गीता परिवार के संरक्षक डा. सुधीर शंकर हलवासिया, संरक्षक अनुपम मित्तल, गीता परिवार के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डा. आशु गोयल, लखनऊ के एसपी ट्रैफिक पूणेन्द्र सिंह एवं गणमान्य लोग मौजूद थे। कार्यक्रम की शुरूआत सभी अतिथियों ने दीप प्रज्ज्वलन से किया।

geeta parivar arjun bhav sanskar path camps children honored at khatu shayam tempel lko
geeta parivar arjun bhav sanskar path camps children honored at khatu shayam tempel lko

पीयूष जयसवाल ने बताया कि समापन अवसर पर मुख्य अतिथियों के समक्ष विशाल कश्यप के निर्देशन में म्यूजिकल योगासोपान के 16 आसनों, आस्था डावर के निर्देशन में बच्चों ने आत्मरक्षा के तरीकों, ज्योति शुक्ला के निर्देशन में गीता के श्लोकों, रूपल शुक्ला के निर्देशन में ध्यान, कविता वर्मा के निर्देशन में संस्कारी बच्चों ने गीतों की मनमोहक प्रस्तुति दी। मुख्य अतिथियों का स्वागत व अभिनंदन पुष्पगुच्छ एवं स्मृति चिन्ह भेंट कर किया गया।

गीता परिवार का परिचय एवं समापन का संचालन शिवेन्द्र मिश्रा किया। इस मौके पर डा. आशु गोयल ने बच्चों को अर्जुन के 26 दैवीय गुणों (अभय, सत्वसंशुद्धि, ज्ञानयोग, अवास्थिति, दान, दम, यज्ञ, स्वाध्याय, तप, आर्जवम्, अहिंसा, सत्य, अक्रोध, त्याग, शांति, अपैशुनम, दया, लोलुप्त्वं, मार्दवम्, ह्री, अचापलम, तेज, क्षमा, धृति, शौच, अद्रोह, नातिमानिता) के बारे विस्तार से बच्चों को बताया जिससे बच्चों को अर्जुन भव बनने की प्रेरणा मिली।

geeta parivar arjun bhav sanskar path camps children honored at khatu shayam tempel lko

पूणेन्द्र सिंह ने बताया कि श्रीमद्भगवद्गीता पवित्र पुस्तक नहीं है ये उपयोगी पुस्तक है। गीता को प्रतिदिन पढ़ने से आपकी समस्त समस्या का हल स्वतः आपको मिल जायेगा और रामचरित मानस को एण्टीवायरस बताया, जिससे आप सही मार्ग चलेंगे, कभी भी आप अपने मार्ग से भटकेंगे नहीं। गीता और रामायण को पढ़ने से हम सभी बच्चों को सत्मार्ग चलने की प्रेरणा प्रदान करता है।

डा. सुधीर शंकर हलवासिया ने कहा कि ये संस्कारी बच्चें कल के भविष्य का निर्माण करने वाले है। यहीं धर्म, संस्कृति व संस्कारों के रखवाले कहलाते है और अपनी भारतीय संस्कृति, संस्कारों को अक्षुण्ण होने से बचाते है। अब यह कह सकते है कि भारतवर्ष फिर से विश्वगुरु की ओर अग्रसर हो रहा है।

Written by National TV

up bjp attack on congress soniya gandhi priyanka vadra for review meeting in rae bareli

कांग्रेस की रायबरेली समीक्षा बैठक-केवल बौखलाहट बैठक : भाजपा

first human mission to be sent by ISRO on India's 75th Independence anniversary

भारत की 75 वीं स्वतंत्रता वर्षगांठ पर इसरो भेजेगा पहला मानव मिशन अंतरिक्ष में