in ,

ध्यानोत्सव; राजधानी में ध्यान का तीन दिवसीय महाअभियान 7 जून से

dhyanotsav three days meditation program in lucknow by shri ram chandra mission and heartfullness
dhyanotsav three days meditation program in lucknow by shri ram chandra mission and heartfullness

लखनऊ। श्री राम चन्द्र मिशन व हार्टफुलनेस आन्दोलन की 75वीं वर्षगांठ 2020 में मनायी जाएगी। इस परिप्रेक्ष्य में ध्यान के फायदों को समाज के सभी वर्गों के लोगों तक पहुंचाने के लिए हार्टफुलनेस इंस्ट्टीयूट ने ध्यानोत्सव का अभियान प्रारंभ किया है। dhyanotsav three days meditation program in lucknow by shri ram chandra mission and heartfullness

हाल में ही तेलगांना, महाराष्ट्र और गुजरात में हुए इस कार्यक्रम से जुड़कर एक लाख से अधिक लोगों का जीवन प्रभावित हो चुका है। अब तक सूरत, मुम्बई, भोपाल, करीम नगर, खम्मन सहित कई दूसरे शहरों में इसका सफलतापूर्वक आयोजन हो चुका है।

Nokia [CPS] IN

उत्तर प्रदेश की राजधानी में तीन दिवसीय ‘ध्यानोत्सव-ए वेलनेस फेस्ट’, गोमती नगर विस्तार स्थित सीएमएस प्रेक्षागृह में 7, 8 व 9 जून 2019 को (शाम से 6 से 8 बजे तक) आयोजित किया जा रहा है।

dhyanotsav three days meditation program in lucknow by shri ram chandra mission and heartfullness
dhyanotsav three days meditation program in lucknow by shri ram chandra mission and heartfullness

प्रेसवार्ता में लखनऊ हार्टफुलनेस की जोनल कोआर्डिनेटर शालिनी मेहरोत्रा ने बताया कि ध्यानोत्सव में मेडिटेशन के साथ योगा, ब्रेन एक्सरसाइज, माइंड रिजुवनेशन व रिलैक्सेशन कार्यक्रम होंगे। तनाव मुक्ति और आंतरिक सफाई की टेक्निक तथा बच्चों के ब्रेन को विकसित करने वाले कार्यक्रम ब्राइटर माइंड की जानकारी आम जन मानस को दी जाएगी।

ध्यानोत्सव के पहले दिन 7 जून 2019 को संस्था के ग्लोबल गाइड डॉ. कमलेश डी पटेल द्बारा लिखित पुस्तक ‘नियति का निर्माण’ का उत्तर प्रदेश में लोकार्पण मुख्य अतिथि केजीएमयू के कुलपति प्रो.एम.एल.बी. भट्ट द्वारा किया जाएगा।

पुस्तक में हार्टफुलनेस टेक्निक से हम अपनी नियति का निर्माण कैसे कर सकते हैं, इस विषय में जानकारी प्रदान की गयी है। लखनऊ ध्यानोत्सव पर स्मारिका का प्रकाशन विशेष रूप से किया गया है। इसका भी लोकार्पण कार्यक्रम के पहले दिन किया जाएगा। कार्यक्रम के दूसरे दिन अपर मुख्य सचिव सूचना अवनीश कुमार अवस्थी तथा अंतिम दिन वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी मुकेश मेश्राम मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित रहेंगे।

इस अवसर पर संस्था के सचिव उमाशंकर बाजपेयी, हार्टफुलनेस मेडिटेशन टेªनर सतबीर बख्शी तथा ध्यानोत्सव के मुख्य संयोजक श्यामजी मेहरोत्रा ने बताया कि हार्टफुलनेस के स्वयंसेवी व्यक्तिगत रूप से शहर के प्रत्येक घर, स्कूल, स्थानीय व्यवसायों के पास जाकर ध्यानोत्सव का निमंत्रण देते हैं।

dhyanotsav three days meditation program in lucknow by shri ram chandra mission and heartfullness

यह पहल भाग लेने वालों का जीवन बदल देती है और दैनिक जीवन में ध्यान का महत्व और बारीकियाँ सिखाती है। लोगों के अच्छे स्वास्थ्य के लिये प्रतिबद्ध हार्टफुलनेस इंस्टिट्यूट ने वर्ष 2019 के लिये प्रमुख सार्वजनिक आयोजन ष्ध्यानोत्सव. डिजाइन अॅवर डेस्टिनी शुरू किया है, ताकि लोगों तक इसके विश्राम, ताजगी और ध्यान की तकनीकों के लाभ पहुँचाये जा सकें।

हार्टफुलनेस के विषय में
हार्टफुलनेस ध्यान की राजयोग प्रणाली है जिसे ष्सहज मार्ग या ष्प्राकृतिक मार्ग भी कहा जाता है। इसका जन्म बीसवीं शताब्दी में हुआ था और इसे भारत में वर्ष 1945 में श्री राम चंद्र मिशन की स्थापना के साथ इसे औपचारिक किया गया।

हार्टफुलनेस मेडिटेशन के विश्व भर में लगभग दो मिलियन प्रैक्टीसशनर्स और दस हजार प्रशिक्षक हैं यह आत्मविकास के लिये अभ्यासों का एक समूह हैए जो हमें तेज गति की दुनिया में मानसिक शांति और ठहराव देते हैं। यह अभ्यास सभी प्रकार के लोगोंए संस्कृतियोंए धर्मों और आर्थिक स्थिति के लिये उपयुक्त हैंए जिन्हें पंद्रह वर्ष की आयु के बाद किया जाता है।

हजारों स्कूलों और कॉलेजों में हार्टफुलनेस मेडिटेशन का प्रशिक्षण दिया जाता है और विश्व में लगभग एक लाख पेशेवर कॉर्पोरेशंसए गैर.सरकारी और सरकारी निकायों में ध्यान करते हैं। 130 देशों में 5000 से अधिक हार्टफुलनेस सेंटर्स हैंए जिन्हें हार्टस्पॉट्स कहा जाता है और इनमें प्रमाणित स्वयंसेवी प्रशिक्षक होते हैं।

Nokia [CPS] IN

हार्टफुलनेस की यह टेक्निक्सं बेहद प्रभावी आत्मप.प्रबंधन टूल्सम हैं जिससे एक स्व0स्थध एवं खुशहाल जिंदगीको बढ़ावा देने के लिए संतुलित एवं सुकूनदायक अस्तित्वम प्राप्तू होताहै। इस प्रोग्राम का आयोजन समूचे भारत में अगले 6.9 महीनों तक विभिन्नू टियर 1ए 2 और 3 शहरों में किया जाएगा। दुनिया भर के लाखों लोग इस प्रोग्राम के फायदों का आनंद उठा रहे हैं।

Nokia [CPS] IN

Written by National TV

governor ram naik made roza iftar at rajbhavan before ied

राज्यपाल राम नाईक ने राजभवन में रोजा इफ्तार का आयोजन किया

Sahara enters Automobile Sector; rolls out the largest range of Electric Vehicles in India

सहारा का इलेक्ट्रिक वाहनों की सबसे बड़ी श्रृंखला के साथ आटोमोबाइल क्षेत्र में पदार्पण