Main Menu

दिल्‍ली; अब हुआ सीएम केजरीवाल की कार पर हमला, आप ने जड़ा बीजेपी पर आरोप

Share This Now

लखनऊ न्यूज डेस्कमुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की कार पर आज दिल्‍ली के नरेला इलाके में हमला किया गया है और आम आदमी पार्टी ने इसके लिए भाजपा को जिम्मेदार ठहराया है। बताया जा रहा है कि सीएम केजरीवाल किसी कार्यक्रम में शामिल होने के लिए नरेला जा रहे थे। आम आदमी पार्टी ने इसके लिए भाजपा कार्यकर्ताओं को जिम्मेदार ठहराया है। हालांकि, भाजपा ने इन आरोपों का खंडन किया है।

राज्यपाल नाईक ने उपराष्ट्रपति एवं केन्द्रीय मंत्रियों से की मुलाकात, 22 फरवरी को नई दिल्ली में होगा पुस्तक का लोकार्पण

सीएम केजरीवाल का काफिला स्वतंत्र नगर मोड की तरफ मुड़ा कथित भाजपा कार्यकर्ताओं ने केजरीवाल हाय-हाय के नारे लगाने शुरू कर दिए। करीब दस मिनट तक मुख्यमंत्री के काफिले को वहीं पर रुकना पड़ा। कथित भाजपा कार्यकर्ता मुख्यमंत्री पर लोगों को गुमराह करने का आरोप लगा रहे थे। प्रदर्शनकारियों का नेतृत्व जिलाध्यक्ष नीलदमन खत्री कर रहे थे। आप की तरफ से मुख्यमंत्री की कार पर पत्थराव किए जाने का भी आरोप लगाया गया है।

जलपाईगुड़ी; ममता सरकार ने माटी को बदनाम कर दिया है और मानुष को मजबूर कर दिया है : पीएम मोदी

इससे पहले मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को जान से मारने की धमकी भी मिली थी। इसमें आरोपी की पहचान विनीज गुलाटी के रूप में हुई है। प्रॉपर्टी विवाद के चलते चाचा को फंसाने के लिए उसने कैलिफोर्निया की एक ट्रैवल एजेंसी से यह फोन किया था। आरोपित इसी एजेंसी में चालक है। स्पेशल सेल ने एजेंसी को ईमेल भेजकर आरोपित को भारत भेजने के लिए कहा है।

Delhi; CM Arvind Kejriwal’s car attacked, aap have accused BJP

सुभाष नगर में विनीज गुलाटी के पिता के नाम पर प्रॉपर्टी है। उनकी मृत्यु के बाद चाचा मुकेश गुलाटी उर्फ भोला से मकान में हिस्सेदारी को लेकर उसका झगड़ा चल रहा है, जो कि सुभाष नगर में विकास टेंट हाउस चलाते हैं। 21 जनवरी को भी फोन पर विनीज और भोला के बीच झगड़ा हुआ। इसी बीच उसने भोला को सबक सिखाने की धमकी दी और फोन काट दिया। इसके बाद उसने मुख्यमंत्री केजरीवाल के सिविल लाइंस स्थित आवास के लैंडलाइन पर फोन कर कहा कि सुभाष नगर में विकास टेंट हाउस चलाने वाला भोला नाम का व्यक्ति मुख्यमंत्री पर हमला कर सकता है।

सुप्रीम आदेश; अपना बंगला खाली करें तेजस्वी यादव, लगाया 50 हज़ार रुपए का जुर्माना

जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल नरेला विधानसभा क्षेत्र की अनधिकृत कॉलोनियों में विकास कार्य का शुभारंभ करने के लिए जा रहे थे। इसी दौरान केजरीवाल का कथित भाजपा कार्यकर्ताओं ने घेराव कर लिया। घेराव में करीब तीन सौ कार्यकर्ताओं के स्वतंत्र नगर के पास खड़े होने की बात सामने आ रही है, जहां से मुख्यमंत्री का काफिला गुजरना था।

मायावती मूर्तियों पर खर्च हुए पैसों को सरकारी खजाने में जमा करवा दें : सुप्रीम कोर्ट

आम आदमी पार्टी की तरफ से मुख्यमंत्री की कार पर पत्थराव किए जाने का भी आरोप लगाया गया है। हालांकि, नीलदमन खत्री ने इस बात से साफ इनकार किया है।



Leave a Reply