in ,

5 करोड़ नहीं देने पर कैबिनेट मंत्री नंदी को बम से उड़ाने की धमकी, फोन पर बोला फिर से रिमोट बम से उड़ेंगे चीथड़े

इलाहाबाद / प्रयागराज : यूपी में बेखौफ बदमाशों का एक और ट्रेलर सामने आया है। इस बार यूपी सरकार के कद्दावर मंत्री को ही बदमाशाों ने धमकाकर रंगदारी मांगी है। मामला उत्तर प्रदेश सरकार के स्टांप व उड्डयन मंत्री नंद गोपाल गुप्ता का है, जिनसे 5 करोड़ की रंगदारी मांगी गयी है। पैसे न देने पर बम से चीथड़े उड़ा  देने की धमकी दी गयी है। फोन पर मंत्री को धमकाने वाले ने कहा है कि अगर पांच करोड नहीं मिली तो रिमोट बम वाला कांड फिर से दोहराया जायेगा और परिवार के लोगों को भी खत्म कर दिया जायेगा। इस मामले में चार दिन बाद मंत्री नंदी ने मुकदमा दर्ज कराया है और अब पुलिस मामले की जांच कर रही है। मोबाइल नंबर को ट्रेस करने का प्रयास पुलिस कर रही है।
फिलहाल मंत्री नंदी के साथ यह कोई नया मामला नहीं है। इससे पहले भी उन्हे इसी तरह की धमकियां दी जा चुकी है। यहां तक की सोशल मीडिया साइट फेसबुक पर नंदी की पत्नी अभिलाषा को भी ऐसी ही धमकी दी गयी थी और नंदी को बम से उडाने को कहा गया था। फिलहाल मामले में पुलिस जांच कर रही है। चूंकि मंत्री पर पूर्व में हमला हो चुका है, इसलिये पुलिस इस धमकी को पूरी गंभीरता से लेकर जांच पड़ताल कर रही है।
क्या मामला
पुलिस के अनुसार प्रयागराज के रहने वाले मंत्री नंदी को उनके प्राइवेट मोबाइल नंबर पर 12 मई, दोपहर 12.10 बजे एक फोन कॉल आई। मंत्री ने फोन रिसीव किया तो फोन उठाते हुये फोन करने वाले युवक ने गालियां देते हुये धमकी देनी शुरू कर दी। मंत्री ने युवक से बातचीत करने का प्रयास किया तो युवक धमकी देते हुये बोला कि मुझे पांच करोड रूपये चाहिये और नहीं मिले तो जिस तरह पहले रिमोट बम से उड़ाये गये थे, वैसे ही इस बार तुम्हरे चीथड़े उडा दिये जायेंगे और परिवार को भी मार दिया जायेगा।
भेजा धमकी भरा मैसेज
धमकी देने वाले युवक ने मोबाइल कॉल कर पहले धमकी दी और फिर थोडी देर में एक मैसेज भी किया जो धमकी से भरा हुआ था। पुलिस के अनुसार मैसेज में लिखा था कि बहुत बड़े मंत्री बन रहे हो, अगर पांच करोड नहीं मिले तो रिमोट बम से तुम्हे और तुम्हारे परिवारक को उड़ा दिया जायेगा।
2010 में हो चुका है हमला
मंत्री नंदी को धमकी देने व बम से उड़ाने की घटना के तार 2010 में उन पर हुये रिमोट बम से ही जोड़कर देखा जा रहा है। जब मंत्री हमलावरों का शिकार बने थे। उस दौरान मंत्री नंदी बुरी तररह से जख्मी हुये थे, जबकि साथ रहे एक पत्रकार व एक गनर की मौत हो गयी थी। कयी महीने तक चले लंबे इलाज के बाद मंत्री नंदी ठीक हुये थे और उसके बाद से ही उन्हे धमकी देने का क्रम चल रहा है।
कब कब मिली धमकी
पुलिस के अनुसार फरवरी 2018 में भी नंदी को जान से मारने की इसी तरह की धमकी दी गयी थी। जबकि उनकी पत्नी व महापौर अभिलाषा गुप्ता को भी दो बार धमकाया गया। पहली बार अभिलाखा को 3 साल पहले 2016 में फेसबुक पर जान से मार देने की धमकी दी गई थी और बीते साल 18 जून 2018 को भी फोन पर धमकी दी थी। हालांकि इस मामले में पुलिस ने नैनी के एक युवक को गिरफ्तार किया था और जांच में पता चला था कि नशे में युवक ने धमकी दी थी। मामले में एसपी क्राइम आशुतोष मिश्रा ने  बताया कि मोबाइल कॉल डिटेल निकलवाई गयी है साथ ही मोबाइल नंबर को ट्रैक किया जा रहा है। जल्द ही आरोपी को दबोच लिया जायेगा।
Nokia [CPS] IN

Written by Amarish Shukla

जेल में हत्या के खौफ से डरा बाहुबली, स्पेशल कोर्ट में कहा दीजिए सुरक्षा नहीं तो किसी भी वक्त हो जायेगी हत्या

Airtel partners with HDFC Life to build a Financially Secure India

एयरटेल ने एचडीएफसी लाईफ के साथ साझेदारी की