in ,

गिरफ्तारी से बचने के लिए हाईकोर्ट की शरण में फिर पहुंचे आजम खान

इलाहाबाद / प्रयागराज : यूपी के रामपुर से समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खान एक बार फिर से मुकदमों में गिरफ्तारी से बचने के लिये इलाहाबाद हाईकोर्ट की शरण में पहुंच गये हैं। पूर्व में हाईकोर्ट ने उन्हें किसानों से संबंधित कुल 29 मामलों में राहत दी थी और गिरफ्तारी पर रोक लगा दी थी। लेकिन, आजम खान की गिरफ्तारी पर रोक की समय सीमा के अलावा दूसरे मामलों में गिरफ्तारी के दबाव के बीच आजम खान फिर से हाईकोर्ट पहुंच गये हैं और किसानों के 27 मामलों के खिलाफ याचिका दाखिल करते हुये 9 से अधिक मुकदमों पर अग्रिम जमानत की मांग की है। गौरतलब है कि एक के बाद एक ताबड़तोड़ मुकदमे झेल रहे आजम खान पर 84 से अधिक मुकदमे दर्ज हो चुके हैं। उनमें 29 मामलों में हाईकोर्ट ने गिरफ्तारी पर रोक लगा दी। हालांकि अभी अन्य मुकदमों पर आजम की मुश्किल जस की तस है, लेकिन अब 29 मुकदमों को आधार बनाकर उनमें भी राहत का प्रयास आजम खान की ओर से किया जा रहा है। गौरतलब है कि आजम खान पर किसानों की जमीन हड़पने से लेकर किताबें चोरी, भैंस चोरी और बकरी चोरी समेत 84 मामले हाल में ही दर्ज किये गये हैं। जिनमें गिरफ्तारी से बचने के लिये आजम खान लगातार हाईकोर्ट की शरण में बने हुये थे।

राज्य सरकार से मांग जवाब
इलाहाबाद हाईकोर्ट में आजम खान की ओर से दाखिल याचिका पर न्यायमूर्ति मनोज मिश्र तथा न्यायमूर्ति पंकज भाटिया की खंडपीठ सुनवाई कर रही है। याचिका में आजम खान की ओर से चुनाव के दौरान दर्ज पांच एफआईआर में गिरफ्तारी पर अग्रिम जमानत देने की मांग शामिल है। जबकि भाजपा प्रत्याशी जया प्रदा द्वरा दर्ज कराये गये एफआईआर मामले पर भी रोक लगाने की मांग की गयी है। इसके अलावा यतीम खाना आदि द्वारा दर्ज गराये गये अन्य 9 मुकदमों में भी अग्रिम अमानत अर्जी दाखिल की गई है। हालांकि अदालत ने आजम खान को फौरी तौर पर अग्रिम जमानत देने अथवा अन्य मुकदमों में गिरफ्तारी पर रोक नहीं लगाई है, बल्कि इस याचिका को भी पांच नवंबर को सुनवाई हेतु पेश करने का निर्देश दिया है।

Nokia [CPS] IN

किसानों केे मामले में राहत
इलाहाबाद हाईकोर्ट में पिछली बार जब आजम खान को बडी राहत मिली थी तो वह मामला किसानों से जुडा हुआ था। सुनवाई के दौरान किसानों द्वारा दर्ज कराये गये मुकदमे को रद्द करने की मांग पर सुनवाई शुरू हुई तो कोर्ट को बताया गया कि आजम खान के खिलाफ किसानों 27 किसानों और एक रेवेन्यू इंस्पेक्टर ने एफआईआर दर्ज कराई है। जिसमें उनपर जमीन हड़पने का मामला दर्ज हुआ है। इसी मामले में आजम खान की गिरफ्तारी पर रोक लगाई गयी है। हालांकि आजम पर दर्ज अन्य मुकदमों में भैंस चोरी, बकरी चोरी, किताब चोरी, जेल की जमीन पर कब्जे, चुनाव के दौरान अभद्र भाषा का प्रयोग करने, अवैध रूप से संपत्ति हथियाने, हरे पेड़ों को कटवाने, रुपये लूटने का मुकदमा दर्ज हुआ है। यह सब मामले अब आजम खान की गले की फांस बनते जा रहे हैं, जिनमें गिरफ्तारी से बचने के लिये अब आजम खान एक बार फिर से हाईकोर्ट की शरण में पहुंच गये हैं।

Nokia [CPS] IN

Written by Amarish Shukla

सपा विधायक नाहिद की गिरफ्तारी रोकने की याचिका खारिज, हाईकोर्ट ने कहा सरेंडर करें

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार के खिलाफ गिरफ्तारी और कुर्की का वारंट जारी