in

राम जन्मभूमि विवाद में मध्‍यस्‍थता पैनल की कोशिशें फेल, छह अगस्‍त से सुप्रीम कोर्ट में रोजाना सुनवाई

Lord Ramlala of Ayodhya minor, his property cannot be sold or taken away: Lawyer CS Vaidyanathan in Supreme court
Lord Ramlala of Ayodhya minor, his property cannot be sold or taken away: Lawyer CS Vaidyanathan in Supreme court

नई दिल्ली : अयोध्या राम जन्मभूमि विवाद में मध्‍यस्‍थता पैनल की कोशिशें फेल होने के बाद सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि अब वह छह अगस्‍त से मामले की रोजाना सुनवाई करेगा। arbitration panel fails in Ram Janmabhoomi dispute, daily hearings in Supreme court from August 6

शुक्रवार को मुख्‍य न्‍यायाधीश रंजन गोगोई ने कहा कि मध्‍यस्‍थता पैनल की रिपोर्ट हमने देख ली है यह मामले का अंतिम समाधान नहीं निकाल पाया है। अब हम 06 अगस्‍त से इस केस की नियमित सुनवाई करेंगे।

Nokia [CPS] IN

उन्‍होंने कहा कि अब मामले की सुनवाई तब तक चलेगी, जब तक कोई नतीजा नहीं निकल जाता है। सुप्रीम कोर्ट की ओर से गठित मध्यस्थता पैनल ने गुरुवार को सीलबंद लिफाफे में अपनी रिपोर्ट सर्वोच्च न्यायालय को सौंप दी थी।

arbitration panel fails in Ram Janmabhoomi dispute, daily hearings in Supreme court from August 6
arbitration panel fails in Ram Janmabhoomi dispute, daily hearings in Supreme court from August 6

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने 2010 में राम जन्मभूमि को तीन बराबर हिस्सों में बांटने का आदेश दिया था। इसमें एक हिस्सा भगवान रामलला विराजमान, दूसरा निर्मोही अखाड़ा व तीसरा हिस्सा सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड को देने का आदेश था। इस फैसले को भगवान रामलाल विराजमान सहित हिंदू, मुस्लिम सभी पक्षों ने सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है। कोर्ट में ये अपीलें 2010 से लंबित हैं।

सुप्रीम कोर्ट ने गत 18 जुलाई को अयोध्या मामले में मध्यस्थता के जरिये सुलह का प्रयास कर रहे तीन सदस्यीय पैनल से मध्यस्थता में हुई प्रगति पर रिपोर्ट मांगी थी। पिछली सुनवाई पर कोर्ट ने मध्यस्थता पैनल की प्रगति रिपोर्ट देखने के बाद पैनल को 31 जुलाई तक का समय और दे दिया था, लेकिन कोर्ट ने रिपोर्ट के तथ्यों को सार्वजनिक करने से यह कहते हुए मना कर दिया था कि कोर्ट का शुरुआती आदेश मध्यस्थता कार्यवाही को गोपनीय रखने का था।

arbitration panel fails in Ram Janmabhoomi dispute, daily hearings in Supreme court from August 6

मुख्‍य न्‍यायाधीश ने शुक्रवार को हुई सुनवाई के दौरान कहा कि सभी पक्षकारों के वकील मामले से जुड़े दस्‍तावेज तैयार रखें ताकि सुनवाई के दौरान सहूलियत रहे। मुस्लिम पक्ष की ओर से पेश हुए वकील राजीव धवन ने शीर्ष अदालत से कहा कि मुख्‍य अपीलों के अलावा कई अन्‍य रिट याचिकाएं और अर्जियां भी कोर्ट में लंबित हैं, ऐसे में अदालत से दरख्‍वास्‍त है कि वह रोजाना सुनवाई से पहले उन्‍हें निपटाए।

मामले की सुनवाई मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पांच सदस्यीय संविधान पीठ कर रही है। पीठ में अन्य न्यायाधीश जस्टिस एसए बोबडे, डीवाइ चंद्रचूड़, अशोक भूषण एवं एस. अब्दुल नजीर भी शामिल हैं।

Nokia [CPS] IN

वकील राजीव धवन ने इस दलील के संबंध में भाजपा नेता सुब्रह्मण्यम स्वामी की याचिका का भी जिक्र किया, जिसमें रामलला की पूजा अर्चना के मौलिक अधिकार की मांग की गई है।

Nokia [CPS] IN

Written by National TV

hritik roshan play as ram dipika padukone as sita in dangal fame director Nitesh Tiwari's film ramayan

दंगल फेम नितेश तिवारी की फिल्म रामायण में राम बनेंगे रितिक तो सीता बनेंगी दीपिका

bjp membership campaign will be reached at every doorstep of every booth - swatantra dev singh

हर बूथ कीे हर दहलीज पर पहुंचेगा भाजपा का सदस्यता अभियान – स्वतंत्र देव सिंह