in ,

5 मार्च से CBSE बोर्ड के एग्जाम, जानें एडमिट कार्ड से जुडी ये 10 जरुरी बातें

नेशनल टीवी इंडिया : सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंड्री एजुकेशन (CBSE) ने 10वीं-12वीं बोर्ड परीक्षा के प्रवेश पत्र जारी कर दिए हैं। बोर्ड ने रेग्यूलर और प्राइवेट, दोनों श्रेणी के छात्रों के प्रवेश पत्र जारी किए हैं. रेग्यूलर छात्र अपने पवेश पत्र अपने स्कूल्स से हासिल कर सकेंगे. वहीं प्राइवेट कैंडिडेट स्वयं ही इसे डाउनलोड कर सकते हैं. 

परीक्षा से संबंधित विभिन्न महत्वपूर्ण जानकारी, जैसे शेड्यूल, परीक्षा केंद्र, परीक्षा का समय आदि छात्रों के प्रवेश पत्र पर उपलब्ध होगी. सीबीएसई ने अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर प्रवेश पत्र जारी किए हैं. लेकिन एडमिट कार्ड में 10 जरूरी बातों पर छात्रों को फोकस करना बहुत जरूरी है.

Nokia [CPS] IN

मालूम हो कि सीबीएसई की 10वीं-12वीं बोर्ड परीक्षाएं 5 मार्च से शुरू होगी. 10वीं और 12वीं, दोनों बोर्ड एग्जाम एक ही दिन यानी 5 मार्च से शुरू होंगे. जहां 10वीं की बोर्ड की परीक्षाएं 04 अप्रैल तक चलेंगी वहीं 12वीं की परीक्षाएं 12 अप्रैल तक चलेंगी. 5 मार्च को 12वीं के इंग्लिश कोर, इंगलिश इलेक्टिव-एन और इंग्लिश इलेक्टिव-सी सब्जेक्ट्स की परीक्षा होगी.

आइए जानते हैं एडमिट कार्ड में 10 ध्यान देने वाली बातें

1. रोल नंबर: टॉप लेफ्ट कार्नर में जो नंबर दिया गया है वह रोल नंबर है. परीक्षा में उपस्थित सभी छात्रों के लिए यह सबसे महत्वपूर्ण संख्या है. यह वह संख्या है जिसे आपकी व्यक्तिगत पहचान के रूप में पहचाना जाएगा. कक्षा 10 और 12 के सभी छात्रों को अपने रोल नंबरों की जांच करनी चाहिए. रोल नंबर आंकड़ों के अलावा शब्दों में भी प्रदान किया जाता है. किसी भी मिस्टेक को समझने के लिए डिजिट और शब्द में लिखे गेर रोल नंबर को मैच कर लेना चाहिए. किसी भी मिसमैच के मामले में, इसे तुरंत बोर्ड के नोटिस के लिए लाया जाना चाहिए.


Nokia [CPS] IN

2. डेट ऑफ़ बर्थ : कक्षा 10 के छात्रों के लिए, यह एक बहुत ही महत्वपूर्ण क्षेत्र है. सीबीएसई द्वारा प्रवेश पत्र पर उल्लिखित जन्म तिथि को सीबीएसई के सभी आधिकारिक दस्तावेजों में दोहराया जाएगा. सीबीएसई कक्षा 10 अंक पत्र और उत्तीर्ण प्रमाण पत्र का उपयोग विभिन्न दस्तावेजों के लिए आपके आधिकारिक जन्म प्रमाण पत्र के रूप में भी किया जाएगा. इसलिए, यह सूचित किया जाता है कि जन्म तिथि की तारीख को जांचें और यह सुनिश्चित करें कि यह सही है. कक्षा 12 छात्रों के लिए, डेथ ऑफ़ बर्थ का टेंशन नहीं है. दसवीं से ही काम चलेगा.

3.सेंटर नंबर (कोड) : यह आपको सौंपा गया परीक्षा केंद्र की संख्या (कोड) है. छात्र अपने परीक्षा केंद्र का पता लगाने के लिए इस संख्या का उपयोग कर सकते हैं. सटीक स्थिति का पता लगाने के लिए, छात्र सीबीएसई के परीक्षा लोकेटर ऐप भी डाउनलोड कर सकते हैं. जरूरी बात यह है कि पिछले साल से, कक्षा 12 के छात्रों को अपने सीबीएसई बोर्ड परीक्षा का रिजल्ट जानने के लिए अपने सेंटर नंबर डालना ही होगा. इसलिए, इस नंबर को ध्यान में रखना अच्छा होगा. CBSE ने वापस लिया यह नियम, 6 से 8 तक के छात्रों को मिलेगी बड़ी राहत 

4. फोटोग्राफ : कैंडिडेट को दो चीजों की जांच करने की आवश्यकता है – पहले की एडमिट कार्ड पर तस्वीर चिपकी है या नहीं और दूसरी बात यह है कि यह आपकी ही तस्वीर है. यदि प्रवेश पत्र तस्वीर के बिना है, तो स्कूलों को यह सुनिश्चित करना होगा कि एडमिट कार्ड पर तस्वीर चिपका कर उसे attested और स्कूल का स्टाम्प लगाया जाए. बता दें कि बिना फोटो वाले एडमिट कार्ड से छात्रों को परीक्षा कक्ष के अंदर अनुमति नहीं दी जाएगी.

5.पर्सनल इनफार्मेशन : यह वह जगह है जहां आपकी मां का नाम, पिता का नाम, स्कूल का नाम और श्रेणी (यदि लागू हो) का उल्लेख किया गया है. छात्रों को सलाह दी जाती है और इसे अच्छे से चेक कर लें और सुनिश्चित करें कि प्रिंटेड जानकारी पूरी तरह से सही है.

6. परीक्षा डेटशीट : यह उन विषयों की डेटशीट है, जिनके लिए आप बोर्ड के रिकॉर्ड के अनुसार परीक्षा देंगे. इसे अच्छे से जांच लें कि सभी कोड, तिथियां और विषय वही छपे हैं जिनके लिए आपने आवेदन किया है. किसी भी तरह के विसंगति के मामले में, छात्रों को तुरंत इसे अधिकारियों के नोटिस में ले जाना चाहिए और समाधान प्राप्त करना चाहिए.

7. आपका सिग्नेचर- यह वह जगह है जहां परीक्षार्थी को अपना सिग्नेचर करना होगा. सिग्नेचर के बाद ही यह वैलिड माना जाएगा. सभी निजी उम्मीदवारों को भी इस पर हस्ताक्षर करने की आवश्यकता है. नियमित उम्मीदवारों के लिए, स्कूल आमतौर पर यह सुनिश्चित कर लेगा कि छात्र इसे छात्रों को सौंपने से पहले प्रवेश पत्र पर हस्ताक्षर करेंगे.

8. प्रिंसिपल के हस्ताक्षर और स्टाम्प : यह अत्यंत महत्वपूर्ण है स्टाम्प और प्रिंसिपल के हस्ताक्षर के बिना, दस्तावेज़ सिर्फ प्रोविजनल और इनवैलिड है. छात्रों को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि एडमिट कार्ड स्कूल से लेने से पहले प्रिंसिपल से हस्ताक्षर और स्टाम्प लगवा लें. प्राइवेट कैंडिडेट के मामले में यह पहले से किया रहेगा.

9. उपरोक्त चीजों के अलावा, छात्रों को सावधानी से प्रवेश पत्र पर दिए गए निर्देशों के माध्यम से जाना चाहिए. परीक्षा के प्रारंभ का समय दिनांक पत्र के दाहिने हाथ पर छपा हुआ है. छात्रों को उस समय तक बैठा होना चाहिए.

Nokia [CPS] IN

10. प्रवेश पत्र में कोई भी परिवर्तन जल्द से जल्द ठीक किया जाना चाहिए और बोर्ड के नोटिस में जल्दी लाएं. इन प्रवेश पत्रों के जारी होने के एक वर्ष के बाद सीबीएसई कोई भी बदलाव स्वीकार नहीं करेगा.

Nokia [CPS] IN

Written by National TV

Comments

Leave a Reply

Loading…

0

Comments

0 comments

सिक्किम की लड़की से ये इनकम टैक्स कमिश्नर कर रहा था गन्दी हरकत, पुलिस ने कस्टडी में लिया

नाबालिग छात्रा के साथ कर दी सारी हदें पार कर दी, बड़ा चरित्रहीन निकला इनकम टैक्स कमिश्नर रामबाबू