in

दिल्ली के निजामुद्दीन में मरकज में जुटे 2000 लोग, 24 संक्रमित, 350 भर्ती, घर लौटने पर 6 की मौत

नई दिल्ली। दिल्ली से बडी खबर सामने निकल कर आयी है। यहां बीते दिनों धारा-144 लागू होने के बावजूद निजामुद्दीन मरकज में धार्मिक कार्यक्रम हुआ। जिसमें 2000 लोग शामिल हुये थे। इनमें से 24 लोगों में कोराना पॉजिटिव आया है। इनमे से एक 64 साल के व्यक्ति के मौत के बाद इस पूरे मामले का खुलासा हुआ है और अब पूरी दिल्ली के साथ देश भर में हडकंप है। इस कार्यकम में शामिल हुये लोगों में अब तक 350 लोगों में कोरोना के लक्षण दिखाई पड़े हैं, जिन्हें अस्पतला में भर्ती कराया गया है। जबकि इस कार्यक्रम से घर लौट 6 लोों की तेलंगाना में मौत हो गयी है। मरने वाले सभी लोग कोरोना से संक्रमित थे और इस कार्यक्रम का हिस्सा बनने के बाद घर लौटे थे।

क्या है मामला 

Nokia [CPS] IN

दिल्ली के निजामुद्दीन स्थित मरकज में बीते दिनों धार्मिक कार्यक्रम आयोजित किया गया था। जिसमें सऊदी अरब, दुबई, उजबेकिस्तान, इंडोनेशिया और मलयेशिया के अलावा लगभग 15 देशों के धार्मिक उपदेशक आदि शामिल हुये थे। इनमें 600 भारतीय भी शामिल थे और कुल संख्या 2000 हजार के आस पास बताई जा रही है। काफी संख्या में लोग यहां से जा चुके हैं, लेकिन बड़ी संख्या में मकरज के अंदर लोग अभी भी रूक थे। जिनकी जांच के बाद अब जब 24 लोगों के पॉजिटिव होने की खबर बाहर आयी तो हडकंप मच गया है।

अस्पतालों में भर्ती 

मरकज के पूरे इलाके को पुलिस व अद्धसैनिक बलों की सुरक्षा में रखते हुये डब्ल्यू एच ओ की अगुवाई में मेडिकल टीम ने लोगों को बाहर निकालना शुरू किया और लगभग 350 लोगों को शाम तक अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती कराया है। जिनकी जांच रिपोर्ट अभी नहीं आयी है और इसका इंतजार किया जा रहा है। फिलहाल सबको कडत्री निगरानी में रखा गया है।

मुश्किल वक्त 

Nokia [CPS] IN

इस कार्यक्रम का हिस्सा बनने के बाद बड़ी संख्या में लोग वापस लौटे। कुछ विदेश लौटै तो कुछ देश के अलग अलग राज्यों मे अपने घर पहुंचे। जो लोग यहां से बाहर गये हैं उनमें तेलंगाना, तमिलनाडु, जम्मू-कश्मीर, पुडुचेरी, अंडमान आदि के लोगों की पहचान हो गयी है। इनमें से कयी में करोना वायरस के संक्रमण की पुष्टि भी हो गयी है और अब इन्हें अस्पतालों में रखा जायेगा। फिलहाल दिल्ली के अलावा यूपी, जम्मू-कश्मीर, तमिलनाडु व तेलंगाना सरकार आयोजन में शामिल होने वाले दूसरे लोगों के लिये सर्च आपरेशन चला रही है, ताकि वह सही समय पर अस्पताल पहुंच जाये और कोरोना न ​फैले।

Nokia [CPS] IN

Written by Amarish Shukla

पूरे देश को संकट में डालने वाला तबलीगी जमात आखिर है क्या ?

COVID-19 : अंडमान में 10 पॉजिटिव, 9 निजामुद्दीन मरकज में हुए थे शामिल