in

लखनऊ शहर मे तेंदूए और बाघ के आतंक ने ले ली कई मासूम जानें दोषी कौन

उत्‍तर प्रदेश   

लखनऊ मे  पिछले  3 माह से बाघ और तेंदुओं का आतंक  पसरा  हुआ है लखनऊ  शहर  व आस  पास के ज़िलो मे  इस समय तेंदुओं का आक्रमण  बढ़ता  देखा गया है ताजुब  की बात ये है की इंसानो से भरी  शोर शाराबे  वाली  इन  जगहो  पर  ये आये कैसे  क्या  वन  विभाग  इनके  लिए सजग  जो भी हो लेकिन  इनका  शहर  के अंदर खुले  आम  घूमना  और  ताबड  तोड़  हमलों ने खौफ  का माहौल  पैदा  कर  दिया  

Nokia [CPS] IN

स्थिति इतनी विकराल हो गई है कि पिछले 3 माह के दौरान ही 6 मासूम बच्‍चों सहित  7 और मासुमो की जान  चली  

बाराबंकी जिले में भी तेंदुओं का आतंक :


Nokia [CPS] IN

लखनऊ के नजदीक के जिले में भी तेंदुओं का आतंक पसरा हुआ है। यहां पिछले साल गोबरहा गांव में तेंदुओं का एक पूरा परिवार देखा गया था।   यहां पुलिस के एक सिपाही पर तेंदुए ने हमला कर उसे घायल कर दिया था। जिसके बाद वन विभाग की नींद खुली और एक नर तेंदुए को पकड़ कर जंगल में वापस छोड़ा गया।  

बहराइच जिले में 5 मासूम बच्‍चे और एक व्‍यस्‍क की हुई मौत :

बाघ और तेंदुओं के हमले से सबसे ज्‍यादा जान माल का नुकसान बहराइच जिले में देखा गया है। प्राप्‍त जानकारी के अनुसार बहराइच जिले के आसपास घना जंगल मौजूद है। इसी जंगल के आसपास 43 गांव बसे हुए हैं।

पिछले 3 माह के दौरान इन्‍हीं गांवों में बाघों और तेंदुओं ने हमला कर 5 मासूम बच्‍चों समेत 1 व्‍यस्‍क व्‍यक्ति की जान ले ली है। जबकि 16 से ज्‍यादा लोग घायल हुए हैं।

बलरामपुर जिले में भी तेंदुओं का हमला जारी :

बहराइच की तरह ही बलरामपुर में भी तेंदुओं ने हमला करके एक मासूम बच्‍चे की जान ली है। साथ ही माधवडीह नामक गांव में 1 युवक बुरी तरह घायल हुआ है।

Nokia [CPS] IN

पिछले 3 माह के दौरान इन गांवों में बाघों और तेंदुओं ने हमला कर 5 मासूम बच्‍चों समेत 1 व्‍यस्‍क व्‍यक्ति की जान ले ली है। जबकि 16 से ज्‍यादा लोग घायल हुए हैं।अब  सोचने  वाली बात ये है की  इन  जानवरों  ने जंगल छोड़ शहर का रुख  क्यो किया  शायद  जंगल अब  ऊंहे सेफ  न्ही  लगते  कटते  पेड  भी इसका  एक बड़ा  कार ण  हो सकते है  वन  विभग को अपनी  आंखे  खोलनी  होगी  इंसानो के साथ साथ इन  जानवरो का भी ख्याल  रखना  होगा

Nokia [CPS] IN

Written by National TV

Comments

Leave a Reply

Loading…

0

Comments

0 comments

बांगरमऊ उन्नाव मे युवक ने फांसी लगा कर दी अपनी जान क्या थी वजह जानिये

72 घंटो बाद घर पहुंचा श्रीदेवी का पार्थिव शरीर, लोगो की जुटी भीड़