in

मोदी सरकार को घेरने के लिए एम के स्टालिन से मिलीं ममता बनर्जी

नेशनल टीवी इंडिया : (पश्चिम बंगाल) देश में अभी नॉर्थ ईस्ट के विधानसभा चुनाव के नतीजों के बाद भाजपा के हौसले और भी बुलंद हैं. भाजपा की ताकत बढ़ती जा रही है. एक तरह से नॉर्थ ईस्ट में मिली जीत को आने वाले लोकसभा चुनाव से जोड़कर देखा जा रहा है. वहीं अब बीजेपी को कड़ी टक्कर देने के लिए विपक्षी पार्टियों के बीच एकता कायम करने के प्रयास शुरू हो चुके हैं. तृणमूल कांग्रेस ने सोमवार को कहा है कि पार्टी सुप्रीमो ममता बनर्जी ने डीएमके के कार्यवाहक अध्यक्ष एम के स्टालिन से संसद और संसद के बाहर तालमेल स्थापित करने के लिए बात की है.  

तृणमूल के राज्यसभा सदस्य डेरेक ओ ब्रायन ने क्या कहा

Nokia [CPS] IN

तृणमूल के राज्यसभा सदस्य डेरेक ओ ब्रायन ने कहा कि बीजेपी को हराने के लिए ममता बनर्जी अलग-अलग पार्टियों से बात कर रही हैं और हम सही रास्ते पर हैं. वहीं टीआरएस प्रमुख के चंद्रशेखर राव से बात करने के बाद ममता ने स्टालिन से फोन पर बातचीत की. डेरेक ने बताया कि टीआरएस, टीडीपी, एसपी, बीएसपी, तृणमूल कांग्रेस और डीएमके के बीच संसद में अलग-अलग मुद्दों को लेकर ‘अच्छा तालमेल’ है.

उनका यह बयान ममता बनर्जी की ओर से त्रिपुरा, मेघालय और नगालैंड के चुनाव परिणाम आने के बाद क्षेत्रीय पार्टियों से एकता की मांग करने के बाद आया है. एक प्रश्न का जवाब देते हुए उन्होंने इस बात को खारिज कर दिया कि ममता बनर्जी पार्टियों को एक जुट करने पर जो काम कर रही हैं उससे कांग्रेस को ‘अलग’ कर दिया गया है. उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ने शिव सेना के नेता उद्धव ठाकरे से भी बात की है. दोनों नेता एक-दूसरे के संपर्क में हैं.

Nokia [CPS] IN

गौरतलब हो कि नॉर्थ ईस्ट में भाजपा को मिली जीत के बाद से ही देश की सियासत गरम है. पॉलिटिकल गुरुओं का भी मानना है कि इन नतीजों का सीधा असर लोकसभा चुनाव पर पड़ने वाला है. इसी को देखते हुए अब विपक्ष गोलबंद होने के लिए पूरी ताकत झोंक रहा है. अब देखना होगा की ममता बनर्जी का स्टालिन से बात-चीत कितनी कारगर साबित होती है.

Nokia [CPS] IN

Written by National TV

Comments

Leave a Reply

Loading…

0

Comments

0 comments

फेसबुक की दोस्ती का एसिड अटैक से हुआ अंत, सोनू पहले ही दे चुका था एसिड अटैक की धमकी

बीजेपी की जीत के बाद त्रिपुरा के 13 जिलों में हिंसा जारी, समर्थकों ने गिराई लेनिन की मूर्ति