in

बिहार के नये डीजीपी बना ये ऑफिसर, नीतीश कुमार ने किया फैसला

नेशनल टीवी इंडिया  :(ब्यूरो रिपोर्ट बिहार) बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने के एस द्विवेदी के नाम पर फैसला कर लिया है. 1984 बैच के आईपीएस अधिकारी केएस द्विवेदी बिहार के नए डीजीपी होंगे. वे मौजूदा डीजीपी पीके ठाकुर से पदभार ग्रहण करेंगे, जोकि 28 फ़रवरी को रिटायर होने जा रहे हैं. मुख्य मंत्री नीतीश कुमार ने नए डीजीपी की नियुक्ति में बिहार पुलिस मैन्युअल के हिसाब से वरीयता को प्रायोरिटी दी है. द्विवेदी अभी बिहार में DG, ट्रेनिंग के पद पर तैनात हैं.

नए डीजीपी के रूप में केएस द्विवेदी का कार्यकाल 31 जनवरी 2019 तक होगा. मतलब वे 10 महीनों तक बिहार के डीजीपी बने रहेंगे. सर्विस रिकॉर्ड में केएस द्विवेदी का जन्म तारीख 1 फ़रवरी 1959 अंकित है. भागलपुर के एसएसपी के तौर पर द्विवेदी का कार्यकाल बहुत चर्चे में रहा था, तभी भागलपुर कम्युनल टेंशन की आग में झुलस रहा था.

Nokia [CPS] IN

केएस द्विवेदी की नियुक्ति को लोग खास कर के भाजपा के प्रभाव के रूप में में देख रहे हैं. हालांकि नीतीश कुमार बिहार पुलिस मैन्युअल के रास्ते चले हैं, जिसमें सीनियर मोस्ट को डीजीपी बनाये जाने का प्रावधान है. हालांकि समय-समय पर नियम शिथिल भी होते रहे हैं. द्विवेदी की नियुक्ति का फैसला होते ही लाइव सिटीज की खबर पर मुहर लग गई है. लाइव सिटीज ने शनिवार की रात को ही बताया था कि सबसे मजबूत दावेदार आरके मिश्रा जब पीछे छूट गए हैं, तो सीनियोरिटी के तहत केएस द्विवेदी आगे आ गए हैं.


Nokia [CPS] IN

बिहार कैडर के आईपीएस अधिकारियों में सबसे सीनियर 1983 बैच के एसके सिन्हा थे, जो कि सेंट्रल डेपुटेशन पर IB में एडिशनल डायरेक्टर हैं. वे बिहार लौटने को तैयार नहीं हुए. फिर 1984 बैच में सीनियोरिटी से राजेश रंजन, के एस द्विवेदी और रविन्द्र कुमार का नाम है. राजेश रंजन भी सेंट्रल डेपुटेशन से बिहार आने को तैयार नहीं थे. ऐसे में, नीतीश कुमार ने के एस द्विवेदी की नियुक्ति का फैसला किया.

Nokia [CPS] IN

के एस द्विवेदी मूल रूप से उत्तर प्रदेश के ओरैया के रहने वाले हैं. उनके पिता जाने माने वैद्य के साथ-साथ कांग्रेस के डिस्ट्रिक्ट प्रेसिडेंट थे. द्विवेदी बनारस में विराजने वाले महादेव के बड़े भक्त हैं. इसके अलावा गौ सेवा उनकी नियमित दिनचर्या में शामिल है. ईश्वर में बेहद आस्थावान हैं.

Nokia [CPS] IN

Written by National TV

Comments

Leave a Reply

Loading…

0

Comments

0 comments

मैट्रिक परीक्षा मैथ पेपर मामले में छात्रों के बवाल के बाद जांच कमेटी गठित,

59-59 विधानसभा सीटों पर मेघालय-नागालैंड में आज हो रहा है मतदान