in

परीक्षा में मन पसंद पेपर ना मिलने पर बिहारियों छात्रों का प्रदर्शन-तोड़फोड़, हंगामा हुआ शुरू

नेशनल टीवी इंडिया डेस्क : (ब्यूरो रिपोर्ट बिहार) बिहार में आज रविवार को मैट्रिक के मैथ पेपर को लेकर कई जिलों में प्रदर्शन-तोड़फोड़ व हंगामा हुआ शुरू. सिलेबस से बाहर के प्रश्न पुछे जाने पर उग्र हुए छात्रों ने जमकर बवाल काटा. यह हंगामा शनिवार को हुए बिहार बोर्ड के मैथ के एग्जाम को लेकर हुआ है. 

आरोप है कि बिहार बोर्ड के मैथ के एग्जाम में कई सवाल सिलेबस के बाहर से पूछे गए थे. इसी बात पर आज सूबे के कई जिलों में मैट्रिक स्टूडेंट्स सड़कों पर उतर आये और तोड़फोड़ की. कई जिलों में ट्रेन परिचालन रोकने की भी कोशिश की गई है. किशनगंज में हंगामा का असर ज्यादा देखने को मिला. यहां राजधानी एक्सप्रेस को रोक देना पड़ा है.

Nokia [CPS] IN

मिली जानकारी के अनुसार स्टूडेंट्स मैट्रिक परीक्षा में कीब 30 नंबर के प्रश्न बाहर से पूछे जाने का आरोप लगा रहे हैं. हंगामा कर रहे स्टूडेंट्स ने मांग की है कि या तो मैट्रिक के मैथ के एग्जाम को रद किया जाए या फिर सभी 30-30 नंबर ग्रेस मार्क दिया जाए.

रविवार को मैट्रिक की परीक्षा में सिलेबस से बाहर के प्रश्न पूछने का आरोप लगाकर किशनगंज में छात्रों ने शहर से लेकर एनएच तक जमकर बवाल काटा. लगभग दो घंटे तक एनएच 31 को जामकर तोडफ़ोड़ व आगजनी की गई. इस दौरान डाउन लाइन से गुजर रही मालगाड़ी पर भी पथराव किया. इस घटना में चालक की केबिन का शीशा टूट गया व चालक को हल्की चोटें भी आईं. छात्रों के उपद्रव को देखते हुए 12423 डाउन राजधानी एक्सप्रेस किशनगंज स्टेशन पर 15 मिनट तक रोकी गई.

100 से अधिक परीक्षार्थी बस स्टैंड के समीप एनएच 31 को जाम कर धरना पर बैठ गए. इसके बाद परीक्षार्थियों ने आसपास की दुकानों में तोडफ़ोड़ करते हुए सड़क पर टायर जलाकर विरोध प्रदर्शन किया. मौके पर पहुंचे एसडीएम मु. शफीक व एसडीपीओ कामिनी बाला आदि ने काफी मशक्कत के बाद मामला संभाला.


Nokia [CPS] IN

सुपौल में छात्रों ने लोहियानगर चौक को जाम कर प्रदर्शन किया और सड़क पर आगजनी भी की. यहां शिक्षा मंत्री और बिहार बोर्ड के खिलाफ नारे लगाए गए. लगभग एक घंटे के विरोध-प्रदर्शन के बाद छात्रों ने उपद्रव मचाना शुरू किया. पहले इन्होंने चौराहे पर लगी होर्डिंग्स तोड़ डाली और फिर जबरन दुकानें बंद कराने लगे. लाठी-डंडों से लैस छात्रों ने लूटपाट भी शुरू कर दी. इसके बाद शहरवासियों ने पुलिस के साथ मिलकर उपद्रवी छात्रों को खदेड़ दिया. सीतामढ़ी के जनकपुर रोड रेलवे ट्रैक पर भी स्टूडेंट्स ने हंगामा किया.

Nokia [CPS] IN

मालूम हो कि बिहार बोर्ड में इस साल परीक्षा को कदाचार मुक्त बनाने के लिए पूरी तैयारी की गई है. परीक्षा केंद्रों के आसपास धारा 144 लागू कर कर दी गई है. बिहार बोर्ड के अध्यक्ष आनंद किशोर ने बताया कि कदाचारमुक्त परीक्षा के लिए विशेष इंतजाम किए गए हैं. परीक्षा केंद्र पर कोई भी व्यक्ति कैमरे वाला फोन नहीं रख सकता है. सभी केंद्राधीक्षकों को बिना कैमरे वाले फोन दिए गए हैं. सभी केंद्रों की विडियोग्राफी भी करवाई जायेगी.

Nokia [CPS] IN

Written by National TV

Comments

Leave a Reply

Loading…

0

Comments

0 comments

इस गाने पर डांस करने के बाद हो गयी श्रीदेवी की मौत, देखे ये विडियो

Shocking : मायावती के बारे में ये क्या बोल गये लालू प्रसाद यादव के बेटे तेजस्वी यादव