in ,

इन सात मौकों पर जरूर करें सेक्‍स, मिलेगी अतिरिक्त उर्जा

दोस्तों सभी को लगता हैं कि सेक्स के लिए सबसे अच्छा समय रात का होता हैं लेकिन उनको यह जानकारी नहीं पता कि रात के आलावा कुछ ऐसे मौके होते हैं जब सेक्स करने से शरीर में उर्जा का संचार होता हैं. आज हम आपको ऐसी ही एक जानकारी से अवगत कराने जा रहे हैं जिससे आप यह जान पाएंगे कि सेक्स कैसे आपके लिए फायेदेमंद साबित हो सकता हैं 

प्रजेंटेशन देने से पूर्व 

Nokia [CPS] IN

जब भी कोई बड़ा प्रजेंशन देने जा रहें हों या कई लोगों के सामने अपनी बात  बोलने जा रहें हो तो उससे पहले यौन संबंध बनायें। क्‍योंकि यौन संबंध बनाने  से आपकी रक्‍त वाहिकाओं में रक्‍त का संचार अच्‍छे से होता है, रक्‍त चाप  कम रहता है और इससे तनाव नहीं होता।


Nokia [CPS] IN

सुबह के वक्‍त 

सुबह का वक्‍त यौंन संबंध बनाने के लिए बेहतर माना जाता है। सुबह के वक्‍त  टेस्‍टोस्‍टेरॉन का स्‍तर भी अधिक रहता है साथ ही आपके अंदर अधिक ऊर्जा भी  रहती है। इस दौरान सेक्‍स करने से दिमाग में एंडोर्फिन का स्‍तर बढ़ता है  और इससे पूरे दिन आपका मन भी शांत रहता है।

कमजोरी महसूस होने पर 

अगर आपको अंदर से ऊर्जा की कमी महसूस हो रही हो और बदलते मौसम ने आपको   बेहाल कर दिया है तो इस समय शरीर को ऊर्जा प्रदान करने के लिए यौन संबंध   बनाइये। अगर सुबह के वक्‍त उठकर आपको लगे कि आप व्‍यायाम नहीं कर सकते हैं,   जॉगिंग करने में भी समर्थ नहीं हैं तो सेक्‍स करके शरीर को ऊर्जा प्रदान   करें।

14वें दिन

 मासिक धर्म शुरू होने के 14वें दिन जरूर यौन संबंध बनाइये। 2013 में हुए एक शोध (यह शोध वोमेंस हेल्‍थ मैगजीन में छपा था) में यह बात सामने आयी कि मासिक धर्म के 14वें दिन यौन संबंध बनाने से आर्गेज्‍म बहुत आसान हो जाता है, क्‍योंकि यह ओव्‍यूलेशन का वक्‍त होता है।

वर्कआउट के बाद 

अगर आप वर्कआउट के बाद भी अपने शरीर को अधिक ऊर्जावान बनाना चाहते हैं तो  यौन संबंध बनाइये। यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्‍सॉस में छपे एक शोध के अनुसार,  वर्कआउट के बाद महिलाओं के जननांगों के पास का रक्‍त का संचार 169 प्रतिशत  तक बढ़ जाता है। इस दौरान महिलायें प्राकृतिक रूप से यौन संबंध बनाने के  लिए तैयार हो जाती हैं, यानी उनमें उत्‍तेजना आ जाती है और उनकी इच्‍छायें  भी बढ़ जाती हैं।

बुरे दिन के बाद 

अगर आपका पूरा दिन बुरा बीता है तो इसे खुशनुमा बनाने के लिए यौन संबंध बनायें। दिन खराब होने के बाद तनाव और थकान होना एक सामान्‍य बात है, और सेक्‍स संबंध बनाने से तनाव दूर होता है। इसलिए अपने बचे हुए दिन को खुशहाल बनाने के लिए पार्टनर के साथ सेक्‍स संबंध बनायें।

डरने के बाद 

अगर आपने ऐसा कोई काम किया है या फिर ऐसी स्थिति से बाहर आयें जो भयावह रही  है और इसने आपके रूह तक को डरा दिया है। तो इस डर से निकलने के लिए यौन  संबंध बनायें। आर्काइव्‍स ऑफ सेक्‍सुअल विहैवियर में छपे एक शोध के अनुसार,  ‘जब एड्रेनालाइन (ऐसा हार्मोन है तो तनाव और डर के समय बनता है) पंप होता  है और तब आपकी यौन संबंध बनाने की इच्‍छा भी सामने आती है और यह डर दूर  करने का सबसे अच्‍छा तरीका है।’

Nokia [CPS] IN

image source – google images

Nokia [CPS] IN

Written by National TV

Comments

Leave a Reply

Loading…

0

Comments

0 comments

गर्भवती होने के लिए कब करें सेक्स, पढ़िए पूरी जानकारी

क्या लड़्कियों की कामयाबी में उनकी सुंदरता का अहम रोल होता हैं ??