in

आम आदमी पार्टी के जिला अध्यक्ष लक्ष्य गर्ग ने ईवीएम हैक पर किया खुलासा, खट्टर सरकार पर भी उठाये सवाल

फतेहबाद/ हरियाणा  : आम आदमी पार्टी के जिला अध्यक्ष लक्ष्य गर्ग से नेशनल टीवी इंडिया के नागरिक पत्रकार की खास बातचीत. आइये जानते हैं उन्होंने अपने इंटरव्यू में ईवीएम को लेकर क्या कहा? वैसे तो सभी पार्टिया ईवीएम पर सवाल उठती रही हैं लेकिन अभी तक कोई ठोस सबूत नहीं मिले जिससे तय किया जा सके कि ईवीएम हैक होती हैं.

प्रश्न-1 आपका राजनीति में आने का उद्देश्य क्या था?

Nokia [CPS] IN

उत्तर- मेरा वैसे तो राजनीति में आने का कोई उद्देश्य नहीं था।मैं अन्ना हजारे द्वारा चलाए गए आंदोलन से प्रभावित था। जब केजरीवाल जी ने आम आदमी पार्टी बनाई तो समर्थकोंनेजंतर-मंतरआने कानिमंत्रण दिया।जंतर मंतर से पार्टी की सदस्यता मिली। तभी से हम पार्टी के साथ हैं। कांग्रेस के नेताओं ने कहा कि बात मनवाने के लिए पार्टी बनानी होगी, लेकिन आज राजनीति गंदी हो चुकी है।

प्रश्न-2 आप राजनीति को गंदा क्यों कह रहे हैं?

उत्तर- कोई शक नहीं कि राजनीति गंदी हो चुकी है। इसमें अपराधी किस्म के लोग आ गए हैं।इतने घोटाले करने वाले लोग आ चुके हैं। जो चुनाव टिकट पाने के लिए पहले पार्टी को पैसे देते हैं फिर चुनाव लड़ने के लिए पैसे लगाते हैं। इस तरह उनके 20-30 करोड़ रुपये लग जाते हैं। फिर वही जब जनता सेनेता बनकरआएगा तब स्वाभाविक है कि वह पैसा कमाएंगा ही कमाएंगा। परंतु आम आदमी पार्टी ने राजनीति को पूर्ण रुप से बदल दिया है। आज रिक्शावाला भी चुनाव लड़ पा रहा है। केवल और केवल 2-3 लाख रुपए में ।

प्रश्न-3 ईवीएम हैकिंग पर आपकी क्या प्रतिक्रिया है?

उत्तर- ईवीएम वास्तव में हैक हो रही है। पिछले वर्ष यूपी में चुनाव हुए तो एक महिला ने कहा कि मेरे ब्लॉक में चुनाव हुए मेरे वोट कहां गए? त्रिपुरा में भी जब चुनाव हुए तो वहां देखा गया कि कोई भी बटन दबाने पर BJP का नाम आ रहा है। जब कोई भी व्यक्ति गलत कार्य करता है तो एक ना एक दिन वह गलत कार्य का पता चल जाता है।जितनी भी ईवीएम खराब मिल रही है उसमें कोई भी बटन दबाओ वह वोट सीधा बीजेपी को जा रहा है।

प्रश्न-4 जब आप को चुनाव आयोग के द्वारा यह मौका दिया गया कि आप आइए और सिद्ध कीजिए कि ईवीएम हैक हो सकती है तब आपकी पार्टी ने कोई भी पर्चा दायर नहीं किया?

उत्तर- सर जी ईवीएम कोई मजाक नहीं है। ईवीएम के द्वारा हमारे भारत देश का लोकतंत्र का निर्णय होता है। 5 साल तक कौन सी पार्टी सत्ता में रहेगी तथा कौन थी नहीं। आप कह रहे हो हम सदन में जनता का पैसा बर्बाद कर रहे है। चुनाव आयोग ने हमें कहा कि वह मशीनें नहीं देंगे। आपको 5 किलोमीटर दूर रहकर ईवीएम हैक करनी होगी जो बिल्कुल यह असंभव था। विकसित देशों में भी बैलेट पेपर द्वारा चुनाव कराए जाते हैं। हमारा तो फिर भी विकासशील देश है। आजकल लोग बैंक अकाउंट हैक कर लेते हैं। ईवीएम कौन सी बड़ी चीज है?

प्रश्न-5 आपकी पार्टी द्वारा एक आईएएस अधिकारी पर हाथ उठाने पर आपकी क्या प्रतिक्रिया है?

उत्तर- सर जी पहले तो मैं यहां यह सिद्ध कर दो कि आईएएस अधिकारी पर हाथ नहीं उठाया गया है। इस विषय पर मैने अपने दिल्ली के कार्यकर्ताओं से भी बात की, उन्होंने भी कहा कि हमने आईएएस अधिकारी पर हाथ नहीं उठाया था।आप खुद सोचिए कि आपने मुझे कहां की लक्ष्यजीआपका इंटरव्यू लेना है। तब मैंने आपको इंटरव्यू का समय बता दिया। अगर मैं बार-बार यह कहता कि मैं आ रहा हूं। मैं 7:00 बजे आ रहा हूं। मैं 8:00 बजे आ रहा हूं इत्यादि। 

तब आपको गुस्सा आता है या नहीं? समय की भी कोई कीमत होती है। आईएएस अधिकारी को इसलिए बुलाया गया था क्योंकि दिल्ली की जनता को सुचारु रुप से राशन नहीं मिल रहा था परंतु वह बार-बार समय बढ़ा रहे थे जब वह बाद में आए तो उन्होंने कहा कि मैं आपके लिए कार्य नहीं करता मैं केंद्र सरकार के लिए कार्य करता हूं। इसलिए कुछ खींचातानी अवश्य हुई होगी। इसके लिए मैं मना नहीं कर रहा। यह तो केवल मोदी सरकार ने नीरव मोदी के घोटाले को छुपाने के लिए  इस बात को उजागर किया है।

प्रश्न-6 आपको फतेहाबाद का जिला अध्यक्ष बने हुए कम से कम 1 वर्ष हो गया है। इस 1 वर्ष में आपने फतेहा बाद में किन-किन समस्याओं को देखा?

उत्तर- मैंने फतेहाबाद का जिलाध्यक्ष बनते हुए,फतेहाबाद के नागरिक अस्पताल में बहुत-सी समस्याएं देखी। वहां पूर्ण रूप से डॉक्टर नहीं है। मशीने सुचारु रूप से कार्य नहीं कर रही है, सफाई के नाम पर कर्मचारी शून्य है। जनता को नागरिक हस्पताल जाने में बहुत ज्यादा समस्याओं का सामना करना पड़ता है। फतेहाबाद में बिजली के बिल भी बहुत अधिक आते है। 15-20 हजार रुपए। एक गरीब व्यक्ति जो केवल और केवल एक पंखे के नीचे सोता है। उसका बिल 15000 रूपए आया। जिसे भरने में वह असमर्थ है। फतेहाबाद की सड़के भी खस्ता हो चुकी है। इसलिए फतेहाबाद को सुधार की अत्यंत आवश्यकता है।

प्रश्न-7 आपने फतेहाबाद के जिला अध्यक्ष होते हुए वहां की जनता की समस्याओं का किस तरह समाधान किया?

उत्तर- हमने हमारी तरफ से फतेहाबाद की नालियों की सफाई करवाई, प्याऊ की व्यवस्था करवाई और जो भट्टू का प्लेटफॉर्म जोकि पूरी तरह से धस चुका था। जिससे लोगों को ट्रेन में चढ़ने-उतरने दिक्कत अनुभव होती थी। उस समस्या को हमने फतेहाबाद के SHO तक पहुँचाया और उन पर दबाव डाला कि वह प्लेटफार्म को ऊंचा बनवाएं। इसी वजह से आज यह प्लेटफार्म यात्रियों के लिए सुविधाजनक है।

प्रश्न-8 आप 25 मार्च 2018 को हरियाणा बचाओ रैली करने जा रहे हैं क्या आपको लगता है कि यह रैली खट्टर सरकार को हरियाणा से उखाड़ने का काम करेगी?

उत्तर- सरजी, खट्टर सरकार तो हरियाणा की जनता से उत्तर ही चुकी है। अब तो हम हरियाणा की जनता को विकल्प दे रहे हैं कि भाजपा  और  कांग्रेस की जगह आम आदमी पार्टी को भी लाया जा सकता है। खट्टर सरकार ने हरियाणा की जनता को तबाही के सिवा और कुछ नहीं दिया। पहले तो रामपाल विवाद, जिसमें हरियाणा की जनता का एक करोड भी अधिक पैसा लग गया। फिर जाट आरक्षण जिसमें 15 दिन तक हरियाणा सुन्नहो गया। रोहतक तो पूरी तरह से जल गया। फिर राम रहीम विवाद, जिसमें मीडिया तक को नहीं बख्शा गया। H-TET को बार-बार कैंसिल करना। प्रतिभागी पेपर देकर घर आते हैं और उन्हें पता चलता है कि उनका पेपर कैंसिल हो गया कारण लीक होने की वजह से। यह सब कार्य खट्टर सरकार की नाकामी को दर्शाते हैं।

प्रश्न-9 हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल खट्टरने एक CM  Windows चलाई है। इस पर आपकी क्या राय है?

उत्तर- सरजी, CM window केवल और केवल एक विंडो बन कर रह गई है। जिस तरह हम घर का कचरा खिड़की से बाहर फेंकते हैं उसी तरह इसमें व्यक्ति शिकायत डाल कर भूल ही जाए कि उसने कोई शिकायत डाली थी। क्योंकि सरकार की तरफ से उस शिकायत पर कोई कारवाई नहीं होती। वह केवल और केवल CM window में पड़ी रहती है। हमने भी कई सारी शिकायतें दर्ज करवाई थी । जिस पर सरकार ने कोई कदम नहीं उठाया। जैसे-बिजली के बिल कम में कटौती करना, सरकारी स्कूलों में आध्यापकों की व्यवस्था करना।

प्रश्न-10 फतेहाबाद जिले में तीन ब्लॉक आते हैं रतिया,टोहाना और भट्टू। आपकी राय में इनमें कौन-सी विधानसभा को सबसे ज्यादा विकास की जरूरत है?

उत्तर- मेरी राय में रतिया को ज्यादा विकास की जरूरत है क्योंकि रतिया एक अनपढ़ इलाका है। यहां सुविधाएं भी सुचारु रूप से उपलब्ध नही है। पेंशन देने के लिए लोगों से ₹100 लिए जाते हैं। शिक्षा के स्तर में भी विकास की काफी जरूरत है।

Nokia [CPS] IN

नागरिक पत्रकार, तेज प्रकाश सिंगला, नेशनल टीवी इंडिया

Nokia [CPS] IN

Written by National TV

Comments

Leave a Reply

Loading…

0

Comments

0 comments

लाखों युवाओ को प्रेरित कर रही हैं इंजीनियर द्वारा लिखी गयी यह किताब, जानिए क्यों खास हैं यह किताब

लड़की को फ्लर्ट करते वक्त लड़के करते हैं ये 3 गलतियां